Home > ट्रेंडिंग > फिर कार चालक की गुंडागर्दी, ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल को कार की बोनट पर घसीटने का मामला आया सामने, कांस्टेबल घायल कार चालक फरार 

फिर कार चालक की गुंडागर्दी, ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल को कार की बोनट पर घसीटने का मामला आया सामने, कांस्टेबल घायल कार चालक फरार 

फिर कार चालक की गुंडागर्दी, ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल को कार की बोनट पर घसीटने का मामला आया सामने, कांस्टेबल घायल कार चालक फरार 
X

ठाणे: कार चालकों को अगर पुलिस रोकती है तो वो रुकने की बजाय भागने लगते है भले ही उनकी कार के सामने ट्रैफिक पुलिस क्यों न खडा हो। खुद तो बडा गुनाह करते है लेकिन दूसरे की जान की परवाह किए बिना। फिर कार चालक ठाणे डोंबिवली में कार की बोनट पर ट्रैफिक पुलिस को घसीटता दिखा। घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है, ट्रैफिक पुलिस सिपाही के हाथ और पैर में चोट आई है लेकिन कार चालक भागने में सफल रहा।


डोंबिवली में यह एक बार हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। डोंबिवली स्टेशन के पास एस.के पाटील चौक पर ट्रैफिक पुलिस सिपाही बालासाहेब होरे अपनी ड्यूटी कर रहे थे तभी उन्होंने एक कार चालक को काले शीशे और लाउड डेक से रोकने की कोशिश की और चालक ने उसे कुचलने का प्रयास किया। कार चालक बोनट पर घसीटते पुलिसकर्मी होरे कार चलाता रहा। इस बीच यह घटना आस पास के कई सीसीटीवी में कैद हो गई और ट्रैफिक पुलिस की शिकायत के बाद रामनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी कार चालक की तलाश शुरू कर दी है।

डोंबिवली स्टेशन के पास एसके पाटिल चौक पर ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक पुलिस कांस्टेबल बालासाहेब होरे को एक चौपहिया वाहन ने टक्कर मार दी। चूंकि कार में काला शीशा और एक बड़ा डेक था, जब कॉन्स्टेबल होरे ने ड्राइवर को कार रोकने की चेतावनी दी, तो वह कार को रोके बिना होरे के ऊपर से कार चढाने का प्रयास किया। होरे ने कार का बोनट पकड़ा तो ड्राइवर ने उसे कार से घसीटते हुए चिपलुनकर रोड होते हुए बाल भवन ले गया। जहां कार चालक ने जोर का ब्रेक मारा और होरे को कार से झटका खाकर नीचे गिर गए और वहां से कार चालक भाग गया, यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई।


इसी बीच कार चालक ने एक रिक्शा चालक को भी टक्कर मार दी और रिक्शा चालक भी घायल हो गया। इसमें होरे के हाथ-पैर में चोट लग गई और उनका इलाज चल रहा है। पुलिस निरीक्षक उमेश गिट्टे ने बताया कि वाहन चालक के खिलाफ रामनगर थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और पुलिस उसकी तलाश कर रही है। तीन दिन पहले इसी तरह की घटना नवी मुंबई के खारघर इलाके में भी एक ट्राफीक पुलिस सिपाही के साथ घटित हुई थी पुलिस ने उसे गिरफ्तार मामला दर्ज किया था, जिस पर पुलिस पर जानलेवा हमला और सरकारी काम में विघ्न डालने सहित कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था। अन्य राज्यों की अपेक्षा यह मामला महाराष्ट्र में ज्यादा घटित होता दिखाई दे रहा है।

Updated : 2022-07-15T01:26:51+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top