Latest News
Home > ट्रेंडिंग > महंगाई, जीएसटी, बेरोजगारी और 'अग्निपथ' के खिलाफ शुक्रवार को राजभवन का घेराव : नाना पटोले

महंगाई, जीएसटी, बेरोजगारी और 'अग्निपथ' के खिलाफ शुक्रवार को राजभवन का घेराव : नाना पटोले

केंद्र सरकार के खिलाफ ज्वलंत सवालों को लेकर कांग्रेस का राज्यव्यापी आंदोलन, प्रदेश के सभी प्रमुख नेता और पदाधिकारी लेंगे भाग

महंगाई, जीएसटी, बेरोजगारी और अग्निपथ के खिलाफ शुक्रवार को राजभवन का घेराव : नाना पटोले
X

मुंबई: ऐसे समय में जब केंद्र की भाजपा सरकार के मनमाने शासन और फैसलों की वजह से महंगाई आसमान छू रही है। वहीं अब मोदी सरकार ने जीवन के लिए आवश्यक वस्तुओं पर भी जीएसटी लगाकर आम लोगों को दिवालिया बनाने के कगार पर लाकर खड़ा करने की कोशिश कर रही है। मोदी सरकार पर यह निशाना प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने साधा है। उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी अपने चरम पर है और युवाओं का भविष्य अंधकार में है। केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से महंगाई, बेरोजगारी और गिरती अर्थव्यवस्था की समस्या विकराल बनती जा रही है। पटोले ने कहा है कि इसका विरोध करने के लिए शुक्रवार, 5 अगस्त को राजभवन का घेराव करने के बाद जेल भरो आंदोलन शुरू किया जाएगा।

मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने आगे कहा कि पेट्रोल, डीजल, एलपीजी गैस, सीएनजी, पीएनजी के दाम दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं। जहां लोग पहले से महंगाई से जूझ रहे हैं वहीं केंद्र सरकार ने अब दूध, दही, पनीर, आटा, तेल, घी समेत जरूरी चीजों पर जीएसटी लगा दिया है। मोदी सरकार ने स्कूली बच्चों को भी जीएसटी से छूट नहीं दी है। स्कूल में बच्चों द्वारा उपयोग में लाई जाने वाली वस्तुओं की आपूर्ति पर भी जीएसटी लगा दिया गया है। अस्पताल में इलाज पर भी जीएसटी देना होगा। नाना पटोले ने कहा कि बेरोजगारी 45 साल के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है। 2014 से 2022 तक, विभिन्न विभागों में नौकरियों के लिए 22 करोड़ आवेदन प्राप्त हुए, लेकिन केवल 7 लाख उम्मीदवारों को नौकरी दी गई। यह जानकारी केंद्र सरकार ने खुद लोकसभा में दी है। ऐसी भयावह स्थिति में अब बेरोजगार युवाओं के लिए 'अग्निपथ' नामक योजना शुरू की गई है।



इसके तहत सेना में सिर्फ 4 साल की सेवा के बाद उन्हें सेवानिवृत्त कर दिया जाएगा। पटोले ने कहा कि यह देश के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। युवा इस योजना का विरोध कर रहे हैं और कांग्रेस उनके साथ मजबूती से खड़ी है। कांग्रेस पार्टी की मांग है कि केंद्र सरकार इस योजना तुरंत वापस ले। नाना पटोले ने कहा कि भारी बारिश के कारण विदर्भ और मराठवाड़ा के किसानों और नागरिकों को भारी नुकसान हुआ है। इन पीड़ितों को तत्काल राहत दी जानी चाहिए और राज्य को बाढ़ प्रभावित घोषित किया जाना चाहिए। उन्होंने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा मुंबई और महाराष्ट्र के अपमान का भी मुद्दा उठाया।



पटोले ने कहा कि इससे पहले राज्यपाल, छत्रपति शिवाजी महाराज, महात्मा ज्योतिबा फुले, सावित्रीबाई फुले के बारे में बोलते हुए कई बार हमारे राज्य की महान विभूतियों का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि कोश्यारी ने राज्यपाल के पद की प्रतिष्ठा को धूमिल किया है और उनका भाषण हमेशा भाजपा और आरएसएस की शिक्षाओं को दर्शाता है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले के नेतृत्व में शुक्रवार की सुबह 11 बजे मुंबई के हैंगिंग गार्डन से राजभवन तक मार्च निकाला जाएगा। उसके बाद जेल भरो आंदोलन होगा। इस मार्च में प्रदेश के स्थानीय नेता, विधायक, सांसद, पदाधिकारी व कार्यकर्ता बड़ी संख्या में भाग लेंगे। वहीं सभी जिला मुख्यालयों में भी नेता और कार्यकर्ता केंद्र सरकार के खिलाफ आवाज उठाएंगे।

Updated : 4 Aug 2022 9:52 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top