Top
Home > ब्लॉग > महिला व बालविकास मंत्री यशोमति ठाकुर इन दिनों सुर्खियों में

महिला व बालविकास मंत्री यशोमति ठाकुर इन दिनों सुर्खियों में

महिला व बालविकास मंत्री यशोमति ठाकुर इन दिनों सुर्खियों में
X

अपनी कार्यशैली से विपक्ष के मंसूबे को किया नाकामयाब

मुंबई। महाराष्ट्र की महिला व बाल विकास मंत्री एडवोकेट यशोमति ठाकुर इन दिनों खूब चर्चा में है। महाराष्ट्र में विपक्ष जिस तरह से सत्ता पक्ष पर हमले कर रहा है। उसी तरह उन्हीं की शैली में यशोमति ठाकुर ने उन्हें करारा जवाब दिया है। यशोमति ठाकुर तिवसा विधानसभा क्षेत्र से चुनकर आई हैं, लेकिन लॉकडाउन संकट काल में अपने विधानसभा के साथ-साथ महिला व बाल विकास मंत्री की जिम्मेदारी के साथ ही काँग्रेस पार्टी से लगाव दोनों खूब दिखाई दे रहा है। यशोमति ठाकुर ने इस सप्ताह में जो काम किया है, उसकी जनता ने खूब सराहना की है। यशोमति ठाकुर के चर्चा में रहने की कई वजह है। पिछले सप्ताह यशोमति ठाकुर ने विपक्ष को बुरी तरह फटकारा और साफ़ शब्दों में कहा कि अगर सरकार तोड़ने की कोशिश की तो भाजपा को भी अंजाम भुगतना पड़ेगा, यशोमति ठाकुर ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को इशारो-इशारो में ये भी कह दिया की बीजेपी के कुछ विधायक उनके संपर्क में हैं। जिसके बाद बीजेपी के आलाकमान को दिल्ली में बैठक कर यशोमति ठाकुर के इस बयान पर भी मंथन करना पड़ा। दूसरी महत्वपूर्ण बात करे तो कोरोना के इस काल में घर का कोई सदस्य पॉजिटिव आता है तो आस-पड़ोस के लोग कितना बुरा बर्ताव करते है ये सभी को पता है, ऐसे में पुणे की सलोनी ने ‘हट जा रे छोकरे’ गाने पर डांस कर जिस तरह से अपनी बहन का स्वागत किया, पूरे देश ने सलोनी के विडिओ को पसंद किया और फिर क्या था महिला बालविकास मंत्री होने के नाते यशोमति ठाकुर ने सलोनी को फ़ोन किया। उसका हौसला बढ़ाया तो सलोनी भी कैबिनेट मंत्री के सीधे फोन करने से और इस हौसला अफजाई से भावुक होकर रोने लगी। यशोमति ठाकुर ने सलोनी से फोन पर बात कर मिलने का भी वादा किया।

वहीं यशोमति ठाकुर ने ५ हजार महिलाओ को सायबर सखी की ट्रेनिंग दी ताकि महिलाओ को खासकर 25 साल से कम उम्र की युवतियां सायबर क्राइम का शिकार ना हो। इसके बाद सुशांतसिंह राजपूत की गर्ल फ्रेंड रिया चक्रवती ने ट्वीट कर कहा था की उसे कुछ लोग धमकी दे रहे है। रिया चक्रवर्ती को रेप की धमकी मिलने पर तुरंत यशोमति ठाकुर ने फटाफट गृहमंत्री से अपराधी के खिलाफ एक्शन लेने की बात की, तुरंत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया। यहीं नहीं महिला बालविकास अधिकारी ने महिला बालविकास कर्मचारी के वाट्सअप ग्रुप पर अश्लील फोटो पोस्ट की जिसका संज्ञान लेकर उक्त अधिकारी पर तुरंत कारवाही की गई। आंगनवाड़ी सेविकाएं किस तरह से अपनी जान जोखिम में डालकर हमेशा दिन रात करती है फिर चाहे बारिश आये या तूफ़ान यशोमति ठाकुर ने आंगनवाड़ी सेविकाओं के लिए निर्णय लिया कि उन्हें सेवानिवृत्त होते ही तुरंत बीमा की रकम मिल जाएगी। आंगनवाड़ी सेविकाओं को 1 लाख रुपये बीमा की रकम मिलती है।

Updated : 23 July 2020 8:57 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top