Latest News
Home > न्यूज़ > मुख्यमंत्री मंत्रालय क्यों नहीं आते हैं

मुख्यमंत्री मंत्रालय क्यों नहीं आते हैं

मुख्यमंत्री मंत्रालय क्यों नहीं आते हैं
X

मुंबई। महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार व अन्य मंत्री मंत्रालय में आते जाते रहते हैं। आखिर राज्य के मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे मंत्रालय में क्यों नहीं आते हैं। मुख्यमंत्री की इस अनुपस्थिति की चर्चा सियासत के गलियारों में तेजी से चल रही है। हालांकि मुख्यमंत्री पंढरपुर खुद गाड़ी चलाकर गए थे. मगर इसके बाद मुख्यमंत्री के मंत्रालय में न जाने का मुद्दा एक बार फिर से गरमा गया है। उध्दव ठाकरे कोरोना महामारी के बाद अपना सभी काम मातोश्री से ही चला रहे हैं।

उध्दव ठाकरे के साथ मुंबई के पालकमंत्री आदित्य ठाकरे भी रहते हैं। उध्दव ठाकरे ने अब तक कॅबिनेट, विरोधी पक्ष की बैठक, अधिकारी या उद्योगपतियों के साथ बैठक सभी व्हिडीयो कांफऱेस के जरिए ही लिया है। मुख्यमंत्री से मिलने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार भी दो बार खुद मातोश्री जा चुके हैं। उध्दव ठाकरे के मंत्रालय अनुपस्थिती का मुद्दा सियासत का रंग लेने के बाद उन्होंने खुद इस पर स्पष्टीकरण दिया है। उन्होंने कहा तकनिकी की वजह से सभी अधिकारी एक साथ आ जाते हैं फिर हम बैठकर निर्णय लेते हैं।

मैं मुख्यमंत्री हूं, मेरे साथ सुरक्षा रक्षकों की फौज रहती है। जिसकी वजह से हमें शारीरिक दूरी का पालन करना पड़ता है। बार-बार जनता के बीच जाने पर भी शारीरिक दूरी का उल्लंघन होता है। इसलिए यह सब हाल देखकर हमें इस तरह से काम करना पड़ रहा है। शिवसेना सांसद संजय राऊत द्वारा ली गई मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे के साक्षात्कार में पहला भाग आज प्रसारित हुआ।. इस दौरान मुख्यमंत्री ने अनेक मुद्दों पर खुलकर जवाब दिया।

Updated : 25 July 2020 3:35 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top