Latest News
Home > न्यूज़ > गिर गई महाराष्ट्र सरकार, उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री और विधान परिषद सदस्य के पद से इस्तीफा दिया

गिर गई महाराष्ट्र सरकार, उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री और विधान परिषद सदस्य के पद से इस्तीफा दिया

गिर गई महाराष्ट्र सरकार, उद्धव ठाकरे ने मुख्यमंत्री और विधान परिषद सदस्य के पद से इस्तीफा दिया
X

मुंबई: महाराष्ट्र में 10 दिन से जारी राजनीतिक उठापटक के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने बुधवार को कैबिनेट की बैठक बुलाई. बैठक ऐसे समय हुई जब सुप्रीम कोर्ट गुरुवार को सदन में फ्लोर टेस्ट कराने के राज्यपाल के निर्देश के खिलाफ एक अर्जी पर सुनवाई कर रहा था। हालांकि, बैठक के दौरान उद्धव ठाकरे के बयानों से पता चलता है कि उन्होंने हार मान ली है और फेसबुक लाइव जनता से संवाद के बाद मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया हैं।


उद्धव कैबिनेट बैठक के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के चलते उप मुख्यमंत्री अजित पवार और कैबिनेट मंत्री छगन भुजबल ऑनलाइन बैठक में शामिल हुए। उद्धव ठाकरे ने सरकार में शामिल कैबिनेट मंत्रियों अपने सभी सहयोगियों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि उनके सहयोगियों ने धोखा दिया लेकिन उन्हें ढाई साल तक गठबंधन सहयोगी के रूप में समर्थन देने के लिए धन्यवाद दिया। महा विकास अघाड़ी गठबंधन में शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस शामिल हैं।

मुख्यमंत्री के इस्तीफे पर संजय राउत का ट्वीट

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अत्यंत शालीनता से पद त्याग किया.हमने एक संवेदनशील, सभ्य मुख्यमंत्री खो दिया.इतिहास गवाह है कि धोखाधड़ी का अंत अच्छा नहीं होता.ठाकरे जीते.यह शिवसेना की शानदार जीत की शुरुआत है.लाठियां खाएंगे,जेल जाएंगे, पर बालासाहेब की शिवसेना को दहकती रखेंगे!

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अगर राज्यपाल द्वारा बुलाए गए फ्लोर टेस्ट को सुप्रीम कोर्ट ने मंजूरी दे दी तो उद्धव ठाकरे इस्तीफा दे देंगे। खबरों की मानें तो उद्धव ठाकरे फ्लोर टेस्ट के लिए नहीं जाने वाले थे और उससे पहले इस्तीफा देने वाले वहीं हुआ। मुलाकात के दौरान उद्धव ठाकरे भावुक नजर आए और बार-बार अपने प्रियजनों द्वारा विश्वासघात का जिक्र किया। इससे पहले कैबिनेट की बैठक के लिए मंत्रालय पहुंचे मुख्यमंत्री ने छत्रपति शिवाजी और संविधान निर्माता बाबा साहब अंबेडकर की प्रतिमाओं पर अभिवादन किया।


उन्होंने कहा, 'आज मुख्यमंत्री ने ढाई साल में हमारे तीनों दलों के अच्छे कामों के लिए उनका शुक्रिया अदा किया है। हो या न हो। उन्होंने (मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे) कहा कि मेरी ही पार्टी ने मेरे साथ विश्वासघात किया है।''' कांग्रेस नेता सुनील केदार ने कैबिनेट बैठक के बाद कहा कि आप बहुत अच्छा सहयोग देते हैं और भविष्य में भी ऐसा सहयोग अपेक्षित है और मैं आपके साथ रहुंगा।

Updated : 2022-06-30T00:42:43+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top