Home > न्यूज़ > मुख्यमंत्री बनते ही एक्शन में आए एकनाथ शिंदे! सीएम के रूट पर कोई विशेष प्रोटोकॉल नहीं

मुख्यमंत्री बनते ही एक्शन में आए एकनाथ शिंदे! सीएम के रूट पर कोई विशेष प्रोटोकॉल नहीं

सीएम नहीं लोग है वीआईपी!! मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने पुलिस महानिदेशक और मुंबई पुलिस कमिश्नर को दिया आदेश ।मुख्यमंत्री के रूट पर वीआईपी मोमेंट जैसी कोई चीज नहीं होगी,कोई भी गाड़ियां देर तक रोका नहीं जाए और रास्तों पर भी सुरक्षा बल कम रखे जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा काफिले के चलते ट्रैफिक को रोकने से लोगों को काफी परेशानी होती है,उनके महत्वपूर्ण काम में देरी होती है। एंबुलेंस फंस जाती है,तो मरीज की जान को खतरा हो सकता है। यह आम लोगों की सरकार है जिसमें आम नागरिकों को वीआईपी से ज्यादा प्राथमिकता दी जाएगी।

X

मुंबई: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शुक्रवार को पुलिस अधिकारियों को एक बड़ा निर्देश जारी करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के काफिले या उनके आगमन और प्रस्थान मार्ग पर किसी विशेष प्रोटोकॉल की आवश्यकता नहीं है। यह जानकारी राज्य के मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) ने दी है। सीएम की शपथ लेने के बाद मुंबई से ठाणे जाने समय कुछ दिक्कते उठाई थी जिसकी सीए एकनाथ शिंदे तक शिकायत मिली थी।

इस मामले पर मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने पुलिस महानिदेशक रजनीश सेठ और पुलिस आयुक्त विवेक फणसळकर के साथ चर्चा की। फिर उन्होंने आदेश दिया कि सीएम के रूट पर कोई वीआईपी नहीं होना चाहिए। सीएम के रूट पर किसी भी ट्रेन को ज्यादा देर तक नहीं रोका जाएगा और सड़क पर सुरक्षा कम रखी जाएगी। सीएम ने कहा कि मेरे साथ पहले से ही प्रोटोकॉल है वो सब कुछ तय करेगा। मेरे काफिले को लेकर पुलिस को व्यस्त न रखा जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि काफिले के कारण यातायात ठप होने से लोगों को काफी परेशानी होती है. उन्हें महत्वपूर्ण काम के लिए देर हो रही है। एंबुलेंस फंसने से मरीज की जान को खतरा हो सकता है। यह आम लोगों की सरकार है, जिसमें वीआईपी से ज्यादा आम नागरिकों को प्राथमिकता दी जाएगी। हमने दो दिन पहले देखा मंत्रालय के गेट पर खडे होकर सीएम एकनाथ कुछ कार्यकर्ताओं से बात कर रहे थे बस को रोक दिया गया था उनकी जैसे ही नजर पडी पहला निर्देश दिया कि क्यों रोका गया बस को उसको जाने दिया मैं बाद में जाउंगा।


Updated : 2022-07-09T20:49:03+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top