Top
Home > न्यूज़ > भूमि पूजन से पहले ही राम जन्मभूमि के पुजारी कोरोना पॉजिटिव, कई पुलिसकर्मी भी संक्रमित

भूमि पूजन से पहले ही राम जन्मभूमि के पुजारी कोरोना पॉजिटिव, कई पुलिसकर्मी भी संक्रमित

भूमि पूजन से पहले ही राम जन्मभूमि के पुजारी कोरोना पॉजिटिव, कई पुलिसकर्मी भी संक्रमित
X

अयोध्या। पांच अगस्त को अयोध्या में श्रीराम मंदिर शिलान्यास और भूमि पूजन से पहले मंदिर के पुजारी प्रदीप दास और सुरक्षा में तैनात 16 जवान कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें फायर ब्रिगेड के सिपाही, पीएसी और पुलिस जवान शामिल हैं। इसकी जानकारी मिलते ही प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया। बताया रहा है अब इस बात की जांच हो रही है कि इनके संपर्क में और कौन-कौन लोग आए थे। पुजारी प्रदीप दास राम मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के सहायक हैं। मुख्य पुजारी के साथ चार अन्य पुजारी राम लला की सेवा करते हैं। प्रदीप दास के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रशासन ने तय किया है कि मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास और तीन अन्य पुजारी का भी कोरोना टेस्ट काराया जाएगा।

अभी प्रदीप दास को होम क्वारनटीन कर दिया गया है। कोरोना संक्रमित 16 पुलिसकमियों को भी क्वारनटीन किया गया है। 16 पुलिसकर्मियों के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद पुलिस प्रशासन सकते में हैं। मंदिर की सुरक्षा में लगभग ढाई हजार से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात रहते हैं। ऐसे में प्रशासन के सामने सबसे बढ़ी चुनौती है कि पांच अगस्त के पहले सबकी जांच करवा लें। 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का भूमि पूजन और शिलान्यास करने अयोध्या आ रहे हैं। इस दौरान उनके साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, लाल कृष्ण आडवाणी, संघ प्रमुख मोहन भागवन जैसी प्रमुख हस्तियां साथ रहेंगी।


सिर्फ जुलाई में 10 लाख से अधिक पॉजिटिव केस

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के आंकड़ों का अध्ययन से यह बात सामने निकलकर आई है कि सिर्फ जुलाई में दस लाख से अधिक पॉजिटिव केस भारत में सामने आए हैं। 30 जून तक यानी शुरुआती चार महीनों की बात करें तो देश में कोरोना के कुल 5.68 लाख केस थे। वहीं, आज इसकी संख्या बढ़कर 15.83 लाख हो गई है। हालांकि राहत की बात यह है कि भारत में रिकवरी और डेथ रेट अन्य बड़े देशों की तुलना में काफी बेहतर है। 30 जून तक के आंकड़ों पर अगर गौर करें तो भारत में कोरोना संक्रमण के कुल 5.68 लाख केस थे। इनमें से 2.15 लाख एक्टिव केस थे। साथ ही 3.35 लाख मरीज स्वस्थ हो चुके थे। साथ ही इस महामारी ने 16,919 मरीजों की जान ले ली थी।

Updated : 30 July 2020 9:27 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top