Top
Home > न्यूज़ > महाराष्ट्र में बकरीद के नियमों पर मुस्लिम समुदाय भी नाराज और कांग्रेस नेता भी

महाराष्ट्र में बकरीद के नियमों पर मुस्लिम समुदाय भी नाराज और कांग्रेस नेता भी

महाराष्ट्र में बकरीद के नियमों पर मुस्लिम समुदाय भी नाराज और कांग्रेस नेता भी
X

मुंबई। महाविकास आघाड़ी सरकार ने महाराष्ट्र में ऑनलाइन बकरियों को खरीदने के नियम बनाए हैं और प्रतीकात्मक रूप में कुर्बानी देने की अपील की है। अब कई लोग सवाल उठा रहे हैं जिसमें कांग्रेस के नेता भी शामिल हैं। आम तौर पर बकरी ईद से पहले लोग बाज़ारों से बकरों की खरीदारी किया करते थे, महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के बढ़ते असर को देखते हुए राज्य सरकार ने इस साल बकरों की खरीदारी बाज़ारों में नहीं बल्कि ऑनलाइन करने की बात कही है. पर अब त्यौहार को कुछ दिन ही रह गए हैं और लोगों को पता नहीं की आखिर खरीदारी कहां से करें।

कुर्ला के सामजिक कार्यकर्ता निसार बरमारे ने बताया कि बकरी ईद के लिए पर सरकार की तरफ से कोई साफ़ नोटिफिकेशन नहीं है, सरकार ने हमसे ऑनलाइन खरीदारी करने को कहा है पर क्या इसके लिए कोई ऐप या पोर्टल नहीं बनाई है। इमरान देरिया ने कहा इस पर जल्द कोई कदम उठाना चाहिए। महाराष्ट्र सरकार की ओर से जारी सूचना के अनुसार सरकार ने लोगों से संभव होने पर प्रतीकात्मक तरीके से बकरों की कुर्बानी करने की बात कही है।

इस निर्णय पर सरकार में शामिल कांग्रेस नेता, पूर्व मंत्री नसीम खान भी सवाल उठाए हैं और उन्होंने इसमें बदलाव करने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र भी लिखा है. कांग्रेस नेता नसीम खान ने कहा, ''कुर्बानी मुसलामानों का एक अहम त्यौहार है. कुर्बानी ऑनलाइन नहीं हो सकती है और ना ही सिम्बॉलिक हो सकती है. इस्लाम में कोई भी इबादत प्रतीकत्मक करने की गुंजाइश नहीं है और इसलिए सरकार को इसपर फिर से कोई निर्णय लेना चाहिए.आने वाले 1 अगस्त को बकरी ईद का त्यौहार मनाया जाना है।

Updated : 26 July 2020 2:22 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top