Top
Home > न्यूज़ > बेहतर होगा अगर कि पार्टी पायलट को समझाए और रोके - निरूपम

बेहतर होगा अगर कि पार्टी पायलट को समझाए और रोके - निरूपम

बेहतर होगा अगर कि पार्टी पायलट को समझाए और रोके - निरूपम
X

एक-एक कर सभी चले गए तो पार्टी में बचेगा कौन?

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के बागी तेवरों के बाद अशोक गहलोत की सरकार संकट में आ गई है. सीएम अशोक गहलोत सरकार बचाने के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं. वहीं बैठक में शामिल ना होने पर सचिन पायलट और उनके समर्थको पर कार्रवाई करते हुए पार्टी से निकाले जाने की चर्चा भी अब जोर पकड़ रही है.
इसी बीच कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने कांग्रेस को सलाह देते हुए सचिन पायलट को मनाने की बात कही है.निरुपम ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा, 'बेहतर होगा, पार्टी सचिन पायलट को समझाए और रोके. शायद पार्टी में कुछ लोग यह सोच रहे हैं कि उसे जाना है तो जाए, हम नहीं रोकेंगे.
लेकिन यह सोच आज के संदर्भ में गलत है. माना कि किसी एक के जाने से पार्टी खत्म नहीं होती. लेकिन एक-एक कर सभी चले गए तो पार्टी में बचेगा कौन? सूत्रों के मुताबिक, गहलोत सरकार गिराना आसान नहीं है. बीजेपी और कांग्रेस के बीच संख्या का अंतर बड़ा है.
पहले सचिन की ताकत देखी जाएगी. कम से कम 30 कांग्रेस विधायक इस्तीफा दें तभी गहलोत सरकार गिरेगी. विधानसभा का अभी साढ़े तीन साल का कार्यकाल बाकी है, ऐसे में क्या विधायक जोखिम मोल लेंगे, इस पर भी ध्यान दिया जा रहा है.

Updated : 13 July 2020 8:31 AM GMT
Next Story
Share it
Top