Home > न्यूज़ > संजय राउत को ईडी का समन मंगलवार को पूछताछ के ईडी दफ्तर हाजिर हो, संजय राउत को प्रतिक्रिया गर्दन कट जाएगी लेकिन झुकेगी नहींं

संजय राउत को ईडी का समन मंगलवार को पूछताछ के ईडी दफ्तर हाजिर हो, संजय राउत को प्रतिक्रिया गर्दन कट जाएगी लेकिन झुकेगी नहींं

संजय राउत को ईडी का समन मंगलवार को पूछताछ के ईडी दफ्तर हाजिर हो, संजय राउत को प्रतिक्रिया गर्दन कट जाएगी लेकिन झुकेगी नहींं
X

मुंबई: महाराष्ट्र में जारी सियासत के खेल के बीच शिवसेना के चाणक्य को ईडी का समन मिलने और पूछताछ के लिए बुलाए जाने पर खलबली मच गई है। सरकार जिस दिन संकट में आई तो उन्हें दो दिन तक परिवहन मंत्री अनिल परब को दो दिन तक ईडी ने बुलाकर पूछताछ की अब जब शिवसेना के लिए सतत प्रयास करने वाले संजय राउत को बुलाया है। प्रवीण राउत और पत्रावली चाल भूमि घोटाला मामले से जुड़े एक मामले में संजय राउत को ईडी ने कल समन भेजकर तलब किया है। ईडी ने पहले भी ईडी ने संजय राउत की पत्नी से पूछताछ कर चुकी है संजय राउत की कुछ संपत्तियां ईडी द्वारा जब्त की गई है।


ईडी की समन के संजय राउत ने का

मुझे अभी पता चला कि ईडी ने मुझे समन किया है। बढ़िया है, महाराष्ट्र आज कठिन परिस्थितियों से गुजर रहा है हम सब महाराष्ट्र में जारी सियासी कारस्थान को रोकने के लिए बाबासाहेब के शिवसैनिकों एक बड़ी लड़ाई लड रहे है। यह साजिश चल रही है। मेरी गर्दन कट भी जाए तो भी मैं गुवाहाटी का रास्ता स्वीकार नहीं करूंगा, मुझे गिरफ्तार कर लो!

गौरतलब है कि ईडी ने शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत से 55 लाख रुपये ट्रांसफर के मामले में पूछताछ की थी। सेना सांसद का नाम लिए बिना, रिमांड रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रा के लिए पीईपी के टिकट और होटल आवास की बुकिंग प्रवीण राउत के फंड से की गई थी। उसने आगे कहा कि विशिष्ट सुरागों के आधार पर, उसने सुजीत पाटकर के आवास पर छापे मारे थे।

पाटकर संजय राउत की बेटियों के बिजनेस पार्टनर हैं। एजेंसी ने कहा कि छापेमारी के दौरान उसे 'उसी प्रभावशाली व्यक्ति' की संपत्ति के दस्तावेज मिले। उसने भूमि सौदों के संबंध में विक्रेताओं की जांच की और पाया कि उन्हें अपनी संपत्ति बेचने के लिए मजबूर किया गया था। संजय राउत के करीबी विश्वासपात्र प्रवीण राउत को ईडी ने गोरेगांव में लीफ वॉकिंग घोटाले में गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान सामने आई जानकारी के आधार पर ईडी ने संजय राउत की संपत्ति को जब्त कर लिया। यह सामने आया है कि पत्रावली चाल में 108 करोड़ रुपये का गबन किया गया है। इसमें से कुछ पैसे संजय राउत के पास जाने वाले थे। आरोप है कि संजय राउत ने इतने ही पैसे से अलीबाग में जमीन खरीदी थी। इस जमीन की कीमत करीब 20 लाख रुपए है। स्थानीय लोगों को धमकाकर सस्ते में जमीन खरीदने का भी आरोप है।


Updated : 2022-06-27T19:55:48+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top