Latest News
Home > News Window > IMA के उपाध्यक्ष ने कहा, मोदी कोरोना वायरस के 'सुपर स्प्रेडर' !

IMA के उपाध्यक्ष ने कहा, मोदी कोरोना वायरस के 'सुपर स्प्रेडर' !

IMA के उपाध्यक्ष ने कहा, मोदी कोरोना वायरस के सुपर स्प्रेडर !
X

नई दिल्ली : भारतीय चिकित्सा संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष (IMA vice president ) डॉ नवजोत दहिया ने सोमवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को चुनावी राज्यों में राजनीतिक रैलियों के आयोजन के लिए कोरोना वायरस का "सुपर स्प्रेडर" कहा और कुंभ मेले के लिए दूसरी लहर के बीच जगह देने के लिए भी जिम्मेदार माना है। दहिया ने एक बयान में कहा की मेडिकल क्षेत्र से जुड़े लोग कोरोना के नियमों का पालन करते हुए काम कर रहे हे जबकि पीएम मोदी ने बड़ी राजनीतिक रैलियों को संबोधित करने में जरा भी संकोच नहीं किया।

दहिया ने कहा कि जब जनवरी 2020 में भारत में कोरोनोवायरस का पहला रोगी पाया गया था तो प्रधानमंत्री ने संक्रमण से निपटने के लिए व्यवस्था करने के बजाय गुजरात में एक लाख से अधिक लोगों की सभाओं का आयोजन किया और तत्कालीन संयुक्त राष्ट्र अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का स्वागत किया।

अब, जब कोविड 19 की दूसरी लहर अभी तक अपने चरम पर है संपूर्ण स्वास्थ्य प्रणाली विफल हो रही है फिर भी पीएम ने पूरे वर्ष स्वास्थ्य व्यवस्थाओ को मजबूत करने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। भारत में बढ़ रही महामारी पर अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने भी कोरोना वायरस संकट से निपटने में मोदी और उनकी असफलता' की आलोचना की है।

IMA vice president डॉ नवजोत दहिया ने यह भी कहा कि ऑक्सीजन की कमी के चलते कई कोविड 19 मरीजों की मौत हो गई है। उन्होंने कहा, "ऑक्सीजन प्लांट लगाने की कई परियोजनाएं अभी भी मंजूरी के लिए केंद्र सरकार के पास लंबित है लेकिन मोदी सरकार द्वारा इतनी महत्वपूर्ण जरूरत पर कोई ध्यान नहीं दिया गया।

उन्होंने कहा कि महामारी का प्रभाव देश के लगभग हर शहर में श्मशान और अस्पतालों के बाहर एम्बुलेंसों की लंबी कतार के साथ दिखाई दे रहा था। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन के मुद्दे पर भी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने जिम्मेदारी से काम नहीं किया और किसानों को उनके मुद्दों को हल किए बिना भारी संख्या में मौजूदगी की अनुमति दी जिससे कोविड 19 का गंभीर खतरा पैदा हो गया।

Updated : 2021-04-28T13:55:41+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top