Top
Home > News Window > UP पंचायत चुनाव: भाजपा पदाधिकारियों की पत्नियां नहीं लड़ पाएंगी चुनाव

UP पंचायत चुनाव: भाजपा पदाधिकारियों की पत्नियां नहीं लड़ पाएंगी चुनाव

UP पंचायत चुनाव: भाजपा पदाधिकारियों की पत्नियां नहीं लड़ पाएंगी चुनाव
X

लखनऊ। BJP ने इस बार पंचायत चुनाव के लिए टिकट वितरण पर फैसला किया है. बीजेपी अपने किसी भी पदाधिकारी की पत्नी की टिकट नहीं देगी, बल्कि महिला उम्मीदवारों की एक नई टीम तैयार की जाएगी.भारतीय जनता पार्टी के संगठन महामंत्री सुनील बंसल ने सभी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों को ये निर्देश दिया है. निर्देश के मुताबिक, किसी भी पदाधिकारी को अपनी पत्नी को चुनाव लड़ाने की इजाजत नहीं दी जाएगी. बल्कि महिलाओं की एक ऐसी टीम तैयार करने पर फोकस किया जाएगा, जो चुनाव जीत सके. यूपी में पंचायत चुनाव की तारीख तय नहीं हुई है, लेकिन चुनाव आयोग ने काम शुरू कर दिया है.

ऐसे में राजनीतिक दल तैयारियों में जुटे हुए हैं. बीजेपी की नज़र इस बार चुनाव के जरिए यूपी के गांव-गांव में अपनी पैठ बढ़ाने पर है. राज्य में योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में सरकार बनने के बाद बीजेपी पहली बार बड़े स्तर पर पंचायत चुनाव में लड़ रही है. यही कारण है कि पार्टी ने इस बार हर स्तर पर अपने अधिकृत उम्मीदवार खड़े करने का फैसला लिया है, ऐसे में तैयारी जोरों की चल रही है और गांव में नेतृत्व बनाया जा रहा है. इसे पहले बीजेपी पंचायत चुनावों में अन्य उम्मीदवारों को समर्थन करती आई है. गौरतलब है कि इन जिला एवं ग्राम पंचायत के चुनावों को 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव का सेमीफाइनल माना जा रहा है. जो ये तय करेगा कि आने वाले चुनाव में बीजेपी, सपा, कांग्रेस और बसपा में किसकी तैयारी मजबूत है. ऐसे में बीजेपी कोई भी कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती है और हर मोर्चे पर तैयारी में जुटी है.

Updated : 2020-11-25T15:21:28+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top