Top
Home > ट्रेंडिंग > यह राम राज्य ही है, नौटंकीबाज के लिए छाती पीटना बंद करो

यह राम राज्य ही है, नौटंकीबाज के लिए छाती पीटना बंद करो

यह राम राज्य ही है, नौटंकीबाज के लिए छाती पीटना बंद करो
X

मुंबई। रिपब्लिक ग्रुप के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के बाद भाजपा देश के अलग-अलग हिस्से में प्रदर्शन कर रही है। भाजपा इसे इमरजेंसी जैसे हाल बताते हुए शिवसेना और सीएम उद्धव ठाकरे पर निशाना साध रही है। शिवसेना ने पार्टी के मुखपत्र सामना में 'यह रामराज्य ही है, एक नौटंकीबाज के लिए छाती पीटना बंद करो' महाराष्ट्र में आपातकाल जैसे हालात निर्माण होने की अफवाह भारतीय जनता पार्टी के महाराष्ट्र में रहने वाले लोग फैला रहे हैं।

मुंबई के एक समाचार चैनल के संपादक अर्नब गोस्वामी को एक बेहद निजी मामले में गिरफ्तार किया गया है। उसकी गिरफ्तारी का राजनीतिज्ञों और पत्रकारों से संबंध नहीं है। गोस्वामी ने तिलक आगरकर की तरह सरकार के खिलाफ जमकर लिखाई की इसलिए सरकार ने उनका गिरेबान पकड़ा है, ऐसा यह कोई मामला नहीं है। दो साल पहले अलीबाग निवासी अन्वय नाईक और उनकी माता की खुदकुशी से संबंधित यह गिरफ्तारी है। नाईक ने मृत्यु से पहले जो पत्र लिखा था उसमें गोस्वामी के साथ हुए आर्थिक व्यवहार, धोखाधड़ी का संदर्भ है।

उसी तनाव के कारण नाईक व उनकी मां ने आत्महत्या की। परंतु पहले की सरकार ने गोस्वामी को बचाने के लिए इस मामले को दबा दिया। इसके लिए पुलिस व न्यायालय पर दबाव डाला। शिवसेना ने कहा, यह आश्चर्यजनक है कि गोस्वामी की गिरफ्तारी के मामले को केंद्र के मंत्री और महाराष्ट्र में भाजपा के नेता आपातकाल जैसी स्थिति बता रहे हैं. पार्टी ने याद दिलाया कि राज्य सरकार के खिलाफ लिखने के कारण गुजरात में एक पत्रकार को गिरफ्तार किया गया था. जबकि उत्तर प्रदेश में एक पत्रकार की हत्या हो गई थी.

Updated : 2020-11-05T20:00:38+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top