Top
Home > ट्रेंडिंग > बाबुल का ये घर बहना...कोरोना काल में 25 नवंबर से शादियों का दौर

बाबुल का ये घर बहना...कोरोना काल में 25 नवंबर से शादियों का दौर

बाबुल का ये घर बहना...कोरोना काल में 25 नवंबर से शादियों का दौर
X

फाइल photo

25 नवंबर को देवउठनी एकादशी है और इस दिन से विवाहिक आयोजन व अन्य धार्मिक अनुष्ठानों का दौर शुरू हो जाएगा. इधर, कोरोना के बढ़ते संक्रण को देखते हुए कई राज्य सरकारों ने सख्ती बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दी है. देश के कई शहरों में नाइट कर्फ्यू की शुरुआत हो चुकी है. दिल्ली सरकार ने शादियों में 50 लोगों के शामिल होने का निर्देश दिया है. पहले यह संख्या 200 थी. दिल्ली की तरह ही कई राज्य सरकारें बहुत जल्द नए प्रतिबंध जारी कर सकती हैं. बिहार,झारखंड सहित अन्य राज्यों की सरकारें शादी-विवाह जैसे भीड़भाड़ वाले आयोजनों में मेहमानों की संख्या सीमित करने का फैसला आज या कल में ले सकती हैं.ऐसे में जिन घरों में शादियां हैं वहां वर और वधु पक्ष के लोगों में मेहमानों को बुलाने की चिंता सताने लगी है. चूंकि अब इस महामारी की आहट दोबारा सुनाई देने लगी है.

दिल्ली, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश ,महाराष्ट्र और राजस्थान जैसे राज्यों में कोरोना के मामले तेज से बढ़ रहे हैं. दिल्ली में हाहाकार मचा रहे कोरोना से सतर्क उत्तर प्रदेश सरकार ने फिर सामूहिक आयोजनों पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया है.मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शादी-समारोहों में सौ से अधिक लोगों को शामिल न होने देने के निर्देश दिए हैं। टीम-11 के साथ समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने सार्वजनिक जगहों पर विशेष सतर्कता बरतने के साथ ही अब वैवाहिक समारोह में भी सिर्फ 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति का निर्देश भी दिया है.महाराष्ट्र सरकार दिल्ली-मुंबई के बीच विमान व रेल सेवाएं रोकने पर विचार कर रही है, लेकिन राज्य की ओर से ऐसा कोई प्रस्ताव अभी केंद्र सरकार को नहीं भेजा गया है.

दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों को देखते हुए राज्य सरकार यह विचार कर रही है. महाराष्ट्र के मुख्य सचिव संजय कुमार के अनुसार, पिछले कुछ दिनों में मुंबई में कोरोना के मामलों में तेजी से कमी आई है. जबकि दिल्ली में इन दिनों कोरोना के मामले बढ़ने शुरू हो गए हैं. मुंबई में पुनः कोरोना की एक और लहर न शुरू हो जाए. इसी सावधानी वश राज्य सरकार को दिल्ली से आने वाले विमानों व ट्रेनों पर रोक लगाने के प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं.कोरोना वायरस के दोबारा बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए महाराष्ट्र, गुजरात और मध्य प्रदेश जैसे कई राज्य सख्ती बरत रहे हैं।

Updated : 2020-11-22T16:39:32+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top