Top
Home > News Window > कोरोना के नए खतरे से टेंशन में दुनिया, केजरीवाल की मांग, यूके की सभी फ्लाइट करो बैन

कोरोना के नए खतरे से टेंशन में दुनिया, केजरीवाल की मांग, यूके की सभी फ्लाइट करो बैन

कोरोना के नए खतरे से टेंशन में दुनिया, केजरीवाल की मांग, यूके की सभी फ्लाइट करो बैन
X

नई दिल्ली। ब्रिटेन में कोरोना के इस नए खतरे को देखते हुए पूरे यूरोप ने ब्रिटेन से खुद को अलग-थलग कर लिया है और ज्यादातर देशों ने अपनी सीमाओं को सील कर दिया है और हवाई सेवा बंद कर दी है। कोरोना के इस नए स्ट्रेन को लेकर अब भारत में भी हलचल देखने को मिल रही है। मगर मोदी सरकार ने कहा है कि इससे लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का एक नया प्रकार (स्ट्रेन) पाए जाने पर केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि सरकार पूरी तरह सतर्क है, घबराने की कोई जरूरत नहीं।

इस नए सिरदर्द से निपटने के तरीकों पर मंथन करने के लिए आज ज्वाइंट मॉनिटिरिंग ग्रुप की बैठक हो रही है। बता दें कि ब्रिटेन में कोरोना का नया स्ट्रेन जब से मिला है, तब से ही यूरोप के अलग-अलग देश फ्लाइट पर बैन लगा रहे हैं। खुद ब्रिटेन ने लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है। इसके अलावा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड समेत यूरोप के कई देशों ने ब्रिटेन आने और जाने वाली फ्लाइट पर पाबंदी लगा दी है। ब्रिटेन का कहना है कि इस नए प्रकार की वजह से देश में संक्रमण के मामले बढ़े हैं।

कोरोना के नए स्ट्रेन से चिंतित मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ट्वीट कर मोदी सरकार से फ्लाइट पर बैन लगाने की मांग की है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा, 'यूनाइटेड किंगडम में कोरोना के नए स्ट्रेन से हलचल है और वो सुपर स्प्रेडर की तरह काम कर रहा है। ऐसे में भारत सरकार को यूके की सभी फ्लाइट बैन करनी चाहिए।'

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी ट्वीट कर कहा कि यूनाइटेड किंगडम में कोरोना की नई स्ट्रेन की खबर चिंताजनक है। उन्होंने ट्वीट किया, 'यूनाइटेड किंगडम में कोरोना की नई स्ट्रेन की खबर चिंताजनक है। भारत सरकार को इस मामले में तुरंत एक्शन लेना चाहिए और ब्रिटेन, अन्य यूरोपीय देशों से आने वाली फ्लाइट तुरंत बैन करनी चाहिए।

इन देशों ने लगाई यात्रा पर बैन

फ्रांस, जर्मनी नीदरलैंड, बेल्जियम, ऑस्ट्रिया और इटली ने ब्रिटेन की यात्रा पर रोक लगाने संबंधी घोषणा कर दी है। फ्रांस ने रविवार मध्यरात्रि के बाद से 48 घंटों के लिए ब्रिटेन से सभी तरह की यात्रा पर रोक लगा दी। प्रधानमंत्री कार्यालय की घोषणा में कहा गया कि ब्रिटेन जाने वाले लोग इससे प्रभावित नहीं होंगे। जर्मनी की सरकार ने कहा कि वह ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों को रोक रही है। नीदरलैंड ने कम से कम इस साल के अंत तक ब्रिटेन से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है।

Updated : 21 Dec 2020 9:37 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top