Home > News Window > दिल्ली के यमुना नदी के साफ सफाई का सच आया सामने, छठ पर गंदे जहरीले झाक वाले पानी में डुबकी लगाने को मजबूर महिलाएं

दिल्ली के यमुना नदी के साफ सफाई का सच आया सामने, छठ पर गंदे जहरीले झाक वाले पानी में डुबकी लगाने को मजबूर महिलाएं

दिल्ली के यमुना नदी के साफ सफाई का सच आया सामने, छठ पर गंदे जहरीले झाक वाले पानी में डुबकी लगाने को मजबूर महिलाएं
X

8 नवंबर को छठ पर्व की शुरुआत हो गयी है और बीते दिन नहाय खाय का पहला दिन था, इसी बीच, सोशल मीडिया पर छठ पर्व के दिन का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, यह वीडियो दिल्ली के यमुना नदी का बताया गया है, छठ के पहले दिन व्रतधारी महिलाएं यमुना नदी के जहरीले झांक वाले पानी में डुबकी लगाते नज़र आई, अब यह वीडियो सामने आने के बाद लोग केजरीवाल सरकार को जमकर ट्रोल कर रहे है, आम जनता के अलावा विपक्ष पार्टी के कई नेता भी केजरीवाल सरकार पर जमकर बरस रहे है और तंज कसते हुए निशाना साध रहे है। बता दे कि छठ का 8 नवंबर से लेकर 11 नवंबर तक रहेगा।

बता दे कि यमुना नदी का पानी न केवल दिल्ली सटे राज्यों के नदियों और गंगा में जाकर मिलता है, जिनमे खासकर उत्तर प्रदेश और हरियाणा के राज्य है।

2021 - 2022 में दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने आप सरकार के बजट को पेश करते हुए कहा था कि यमुना नदी तीन साल में पूरी तरह साफ हो जाएगी, इसके लिए डिप्टी सीएम ने यमुना क्लीनिंग प्रोजेक्ट की एलान भी किया था। यमुना क्लीनिंग प्रोजेक्ट के लिए तक़रीबन 2,074 करोड़ रुपये अलॉट किए गए है।

Updated : 2021-11-09T11:15:38+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top