Top
Home > ट्रेंडिंग > दिल्ली आंदोलन की गूंज पूरे भारत में जाना चाहिए,तब कानून वापस लेगी सरकार: अन्ना हजारे

दिल्ली आंदोलन की गूंज पूरे भारत में जाना चाहिए,तब कानून वापस लेगी सरकार: अन्ना हजारे

दिल्ली आंदोलन की गूंज पूरे भारत में जाना चाहिए,तब कानून वापस लेगी सरकार: अन्ना हजारे
X

अहमदनगर। अन्ना हजारे मंगलवार को आंदोलनरत किसानों को समर्थन देने के लिए एक दिवसीय भूख हड़ताल पर बैठे हुए हैं, उन्होंने किसानों का साथ देते हुए भारत बंद का समर्थन किया है और केंद्र सरकार से नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग की है। हजारे ने कहा कि ये आंदोलन पूरे देश में फैल जाना चाहिये जिससे सरकार पर इन कानूनों को वापिस लेने के लिए दबाव बन सके। एक रिकॉर्ड किए गए संदेश में, हजारे ने दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के विरोध की सराहना करते हुए कहा कि आंदोलन के पिछले 10 दिनों में कोई हिंसा नहीं हुई है।

"मैं देश के लोगों से अपील करता हूं कि दिल्ली में जो आंदोलन चल रहा है, वह पूरे देश में फैल जाए। सरकार पर दबाव बनाने के लिए स्थिति बनाने की जरूरत है और इसे हासिल करने के लिए किसानों को सड़कों पर उतरने की जरूरत है। महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के रालेगण सिद्धि गांव में भूख हड़ताल पर बैठे अन्‍ना हजारे ने कहा कि लेकिन किसी को भी हिंसा का सहारा नहीं लेना चाहिए। किसानों के लिए सड़कों पर आने और उनके मुद्दों को हल करने का यह "सही समय" था। हजारे ने कहा कि "मैंने पहले भी इसका समर्थन किया था, और ऐसा करना जारी रहेगा।" हजारे ने कहा कि किसानों को एमएसपी स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों के आधार पर लाभ दिया जाना चाहिए।

Updated : 2020-12-08T20:33:00+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top