Home > News Window > तापसी-अनुराग को किसानों की आवाज उठाने की ये सजा है:SS

तापसी-अनुराग को किसानों की आवाज उठाने की ये सजा है:SS

तापसी-अनुराग को किसानों की आवाज उठाने की ये सजा है:SS
X

मुंबई। IT अधिकारियों की छापेमारी तीसरे दिन भी जारी है। क्वान टैलंट मैनेजमेंट कंपनी में काम करने वालों से पूछताछ हो रही है। देर रात दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व मैनेजर जया साहा को तलब किया गया था। शिवसेना ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। उसने अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में लिखा है, 'तापसी और अनुराग केंद्र सरकार और उसकी नीतियों के खिलाफ अपनी आवाज उठाते हैं, इसलिए उनके साथ ऐसा हो रहा है। आवाज उठाने की सजा मिली है।

सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस यानी CBDT ने गुरुवार को बताया कि कुल 370 करोड़ रुपए की टैक्स चोरी का मामला सामने आया है। यह टैक्स चोरी शेयर ट्रांजैक्शन का अंडर वैल्यूएशन कर और फर्जी खर्चे दिखाकर हुई है। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने बुधवार सुबह 8 बजे से मुंबई, पुणे समेत कुछ अन्य शहरों में कुल 28 ठिकानों पर छापे मारे।

सामना में अनुराग कश्यप के बारे में लिखा गया है, 'उनके लिए यही कहना पड़ेगा। उनके विचारों से सहमति भले न हो, लेकिन उन्हें उनके विचार व्यक्त करने का पूरा अधिकार है। दीपिका पादुकोण ने जेएनयू में जाकर वहां के विद्यार्थियों से मुलाकात की तब उनके बारे में भी छुपे आंदोलन और बहिष्कार का हथियार चलाया गया। दीपिका की फिल्म को नियोजित तरीके से फ्लॉप करने का प्रयास हुआ ही। सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ गंदी मुहिम चलाई गई। ये सब करनेवाले कौन हैं या किस विचारधारा के हैं, ये छोड़ो।

Updated : 2021-03-05T13:51:17+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top