Top
Home > News Window > कुणाल कामरा और रचिता तनेजा को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करने पर नोटिस

कुणाल कामरा और रचिता तनेजा को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करने पर नोटिस

कुणाल कामरा और रचिता तनेजा को सुप्रीम कोर्ट की अवमानना करने पर नोटिस
X

नई दिल्ली : कुणाल कामरा और रचिता तनेजा ने कथित तौर पर सुप्रीम कोर्ट के जजों के खिलाफ अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया था जिसके बाद कामरा के खिलाफ श्रीरंग कटनेश्वर्कर ने दाखिल की है जिसकी सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में थी और सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बाद अब कामरा और और कार्टूनिस्ट रचिता तनेजा की मुशकिलें बढ़ती नजर आ रही हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कुणाल कामरा और रचिता तनेजा को कोर्ट की अवमानना का नोटिस जारी किया है। सुप्रीम कोर्ट ने दोनों से 6 हफ्ते में नोटिस का जवाब मांगा है। बता दें कि कुणाल कामरा और रचिता तनेजा ने कथित तौर पर सुप्रीम कोर्ट के जजों के खिलाफ अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया था

याचिकाकर्ता कटनेश्वर्कर ने बताया कि ये सभी ट्वीट अपमानजनक हैं और हमने इस मामले में अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल से अवमानना कार्यवाही शुरू करने की अनुमति मांगी थी, जो मिल गई है। उधर, आपत्तिजनक ट्वीट के कारण रचिता तनेजा के खिलाफ आपराधिक अवमानना कार्यवाही शुरू करने के लिए दायर याचिका पर भी अटॉर्नी जनरल ने अपनी मंजूरी दे दी। बता दें कि अगर किसी शख्‍स के खिलाफ अवमानना की कार्यवाही शुरू करनी है, तो उसके लिए अदालत को अवमानना अधिनियम-1971 की धारा-15 के तहत अटॉर्नी जनरल या सॉलिसीटर जनरल की सहमति लेनी होती है। इसके बिना कार्यवाही करना संभव नहीं है। अब कॉमेडियन कुणाल कामरा क्या सफाई देते है ये देखना होगा .

Updated : 18 Dec 2020 10:23 AM GMT
Next Story
Share it
Top