Home > News Window > सोनिया गांधी ने 24 जून को बुलाई सीनियर नेताओं की बैठक, महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने की रणनीति पर होगी चर्चा

सोनिया गांधी ने 24 जून को बुलाई सीनियर नेताओं की बैठक, महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने की रणनीति पर होगी चर्चा

सोनिया गांधी ने 24 जून को बुलाई सीनियर नेताओं की बैठक, महंगाई के मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरने की रणनीति पर होगी चर्चा
X

मुंबई: दिल्ली में 24 जून 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर चर्चा करने के लिए सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इसमें जम्मू-कश्मीर के 14 नेताओं को बुलाया गया है। वहीं केंद्र में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी 24 जून को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एआईसीसी महासचिवों, राज्य प्रभारियों और पीसीसी अध्यक्षों की बैठक बुलाई है।

जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस इस बैठक में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हुई बढ़ोतरी और कुछ अन्य मुद्दों पर केंद्र सरकार को घेरने की रणनीति बनाएगी। सूत्रों के हवाले से मिली ख]बर के अनुसार, "डिजिटल माध्यम से होने वाली इस बैठक में कांग्रेस नेता पार्टी के प्रस्तावित संपर्क अभियानों पर भी चर्चा करेंगे।

मीटिंग में पेट्रोल-डीजल और जरूरी खाद्य वस्तुओं के दामों को लेकर आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। बैठक में कोविड के मौजूदा हालात और आर्थिक स्थिति पर भी चर्चा हो सकती है। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटियों के अध्यक्षों की भी बैठक बुलाई जाएगी। यह बैठक जुलाई में संभावित संसद के मानसून सत्र से पहले बुलाई गई है।

कांग्रेस पेट्रोल-डीजल की कीमतों में हुई वृद्धि को लेकर पिछले कुछ हफ्तों से केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार हमलावर है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने रविवार को ट्विट कर लिखा था कि मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को शपथ पत्र देकर कहा है कि केंद्र के पास कोरोना से मरने वालों के परिजनों को 4 लाख रुपये का मुआवजा देने के लिए पैसा नहीं है।

सुरजेवाला ने आरोप केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, 'मुआवजा देने को रुपये नहीं है, लेकिन सेंट्रल विस्टा और प्रधानमंत्री के लिए भव्य महल बनवाने के लिए 20,000 करोड़ रुपये हैं। पेट्रोल-डीजल की लूट से 2020-21 में इकट्ठा किए गए तीन लाख 89 हजार 662 करोड़ रुपये कहां गए?

Updated : 22 Jun 2021 6:33 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top