Home > News Window > महाराष्ट्र में झटके पर झटका,बहुमत के बावजूद अपना मेयर नहीं बना सकी भाजपा,दिग्विजय नए मेयर

महाराष्ट्र में झटके पर झटका,बहुमत के बावजूद अपना मेयर नहीं बना सकी भाजपा,दिग्विजय नए मेयर

महाराष्ट्र में झटके पर झटका,बहुमत के बावजूद अपना मेयर नहीं बना सकी भाजपा,दिग्विजय नए मेयर
X

फाइल photo

मुंबई। एक बार फिर से महाविकास अघाड़ी ने भाजपा को महाराष्ट्र में झटका दिया है। 'सांगली मिराज कुपवाड़' नगर निगम में एक बड़ा सत्ता परिवर्तन हुआ है। पहली बार नगरसेवकों की पर्याप्त संख्या होने के बावजूद भाजपा अपना मेयर नहीं बना सकी है। पार्टी के 7 में से पांच पार्षदों ने क्रॉस वोटिंग की है और दो ने अनुपस्थित रहकर NCP उम्मीदवार का बाहर से समर्थन कर दिया है। जिसके बाद पिछले ढाई साल से मेयर के पद पर काबिज भाजपा के धीरज सूर्यवंशी को एनसीपी के दिग्विजय सूर्यवंशी ने हरा दिया है।

78 सीटों की नगर निगम में धीरज को जहां 36 वोट मिले, वहीं दिग्विजय सूर्यवंशी को 39 वोट मिले हैं। बता दें कि सांगली की मेयर गीता सुतार का कार्यकाल 21 फरवरी को समाप्त हो गया था। सांगली नगर निगम का यह चुनाव राकांपा प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की प्रतिष्ठा का सवाल बना हुआ था। पिछले ढाई साल से 43 पार्षदों के साथ भाजपा मेयर की कुर्सी पर काबिज थी, लेकिन चुनाव से ठीक पहले 5 उम्मीदवारों ने क्रॉस वोटिंग करते हुए एनसीपी उम्मीदवार को अपना मत दे दिया। वहीं, पिछड़ा वर्ग समिति के अध्यक्ष स्नेहल सावंत के साथ महेंद्र सावंत ने भी दिग्विजय के पक्ष में मतदान किया है। इस तरह 3 वोटों से दिग्विजय की जीत हुई।

Updated : 2021-02-24T14:52:30+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top