Top
Home > ट्रेंडिंग > संविधान दिवस पर बोले पीएम वन नेशन वन इलेक्शन भारत की जरूरत

संविधान दिवस पर बोले पीएम वन नेशन वन इलेक्शन भारत की जरूरत

संविधान दिवस पर बोले पीएम वन नेशन वन इलेक्शन भारत की जरूरत
X

नई दिल्ली. संविधान दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर वन नेशन वन इलेक्शन की बात पर जोर दिया है. गुरुवार को अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा कि एक देश एक चुनाव पर बहस बहुत जरूरी है.मोदी ने कहा 'वन नेशन, वन इलेक्शन' केवल विचार-विमर्श का मुद्दा नहीं है, बल्कि देश की भी जरूरत है. यह विकास कार्य को बाधित करता है और आप सभी इसके बारे में जानते हैं. हमें इसके बारे में गंभीरता से सोचना चाहिए.'

पीएम ने कहा कि लोकसभा, विधानसभा और अन्य चुनावों के लिए केवल एक मतदाता सूची का उपयोग किया जाना चाहिए. हम इन सूचियों पर समय और पैसा क्यों बर्बाद कर रहे हैं? इससे पहले पीएम ने कहा कि मैं हर भारतीय नागरिक को संविधान दिवस की शुभकामना देता हूं. मैं संविधान बनाने में शामिल सभी सम्मानित व्यक्तियों को धन्यवाद देना चाहता हूं. पीएम ने कहा कि आज डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद और बाबा साहेब अंबेडकर से लेकर संविधान सभा के सभी व्यक्तित्वों को भी नमन करने का दिन है, जिनके अथक प्रयासों से देश को संविधान मिला है.

आज का दिन पूज्य बापू की प्रेरणा को, सरदार पटेल की प्रतिबद्धता को प्रणाम करने का दिन है.उन्होंने कहा कि आज की तारीख, देश पर सबसे बड़े आतंकी हमले के साथ जुड़ी हुई है. पाकिस्तान से आए आतंकियों ने मुंबई पर धावा बोल दिया था. इस हमले में अनेक लोगों की मृत्यु हुई थी. कई देशों के लोग मारे गए थे. मैं मुंबई हमले में मारे गए सभी लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।

Updated : 2020-11-26T19:56:52+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top