Home > News Window > एनसीपी नेता नवाब मलिक ने लगाए फडणवीस पर गंभीर आरोप, जानिए क्या कहा

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने लगाए फडणवीस पर गंभीर आरोप, जानिए क्या कहा

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने लगाए फडणवीस पर गंभीर आरोप, जानिए क्या कहा
X

मुंबई : बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के द्वारा लगाए गए अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन वाले आरोपों पर आज एनसीपी नेता नवाब मलिक ने लगे आरोपों पर पलटवार करते हुए जवाब दिया और कई बातों को रखा, नवाब मलिक ने फडणवीस द्वारा लगाए गए आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि ' 2005 में मंत्री पद पर नहीं था, आर आर पाटिल जी की वीडियो वायरल हुई ये सवाल आपने खड़ा किया, मुनीरा से सम्पति लेने के बाद सलीम पटेल की वीडियो वायरल हुई थी और समीर पटेल ने उन सारे अखबार और चैनलों पर जिन लोगों ने दाऊद से उसका कनेक्शन बताया था उन पर सूट फाइल किया था, और पांच महीने पहले मैने जानकारी ली समीर पटेल का देहांत हो गया, और समीर पटेल मुनीरा का पावर ऑफ़ अटोर्नी था... आगे नवाब ने सरदार वली खान को लेकर ने कहा कि ' सरदार वली खान सजा काट रहे, मुजरिम से लेनदेन किया है 2005 में वो कनविक्टेड नहीं था, जो वॉचमैन वह था उनका लड़का था, 300 मीटर पे सात बारह पर अपना नाम चढ़ा लिया था रेक्टिफिकेशन करने के लिए कोई कागज वो हमने पैसा दिया था ये सच्चाई है, आगे कहा ' जो लड़ाई में लड़ रहा हु एनसीबी में निर्दोष लोगो को फ़साने का, हजारों करोड़ो की उगाही करने का तो कही न कही देवेंद्र जी उसको डाइवर्ट करने की कोशिश कर रहे है .

नवाब ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा...

-देवेंद्र फड़नवीश अधिकारी को बचाने का प्रयास कर रहे है। नवाब ने कहा देवेंद्र जी के अधिकारी से पुराने संबंध है, नवाब ने कहा 2008 में कोई अधिकारी नौकरी को ज्वाइन करता है और 14 साल से मुंबई शहर छोड़ता नहीं इसके पीछे क्या राज है .

-इसी बीच, नवाब ने कहा ' देवेंद्र फडणवीस के राज में जाली नोटों का खेल हुआ और फडणवीस के सरकार में जाली नोटों के रैकेट को संरक्षण मिला था इसके बाद कहा जाली नोटों का रैकेट पाकिस्तान से लेकर बांग्लादेश और दाऊद तक था। ऐसा नवाब ने आरोप लगाते हुए कहा।

-आगे कहा ' 8 नवंबर 2016 नोटबंदी पर देश भर में कई जगह छापेमारी कर जाली नोट पकडे गए थे, और वही 8 अक्टूबर 2017 में महाराष्ट्र में हुई एक छापेमारी में 14 करेाड़ 56 लाख से ज्यादा के जाली नोट पकड़े गए थे। उस मामले को देवेंद्र फडणवीस ने ख़त्म करने का काम किया था, और मात्र 80लाख हजार बता कर मामले को बंद कर दिया गया, मामले में आरोपी पर मामला दर्ज हुआ और कुछ दिन बाद जमानत हो गयी।

-आगे कहा दाऊद के साथ क्यों करीबी फडणवीस का?.. जानकारी देते हुए नवाब ने कहा ' अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन रखने वाले को राजीनीति प्रदान की और मुन्ना यादव नाम के व्यक्ति को कंस्ट्रक्शन बोर्ड का चैयरमेन बना दिया था, जबकि मुन्ना यादव माफिया से जुड़ा था और हत्या जैसे कई संगीन जुर्म के मामले दर्ज थे .

-नवाब ने आरोप लगाते हुए कहा कि ' दाऊद के करीबी रियाज़ भाटी के जरिए सीएम फडणवीस उगाही का काम करते थे, लोगो के खिलाफ केस दर्ज कर वसूली की जाती थी, लैंड के मालिकों को पकड़कर लाया जाता था और उनकी सारी जमीने लिखवा ली जाती थी, ऑफिस में विदेशों के गुंडों के कॉल आते थे।

-नवाब ने आगे कहा ' रियाज भाटी कैसे प्रधानमंत्री के कार्यक्रम तक पहुंच गया, आगे.... रियाज भाटी दो पासपोर्ट के साथ पकड़ा गया था, और जिस व्यक्ति के पास दो पासपोर्ट हो उसे दिनों दिन जमानत मिल जाती है, रियाज भाटी बीजेपी के हर प्रोग्राम में पहुंच जाता था और फडणवीस के साथ वह डिनर टेबल पर भी दिखता था, फडणवीस के आशीर्वाद कार्यक्रम से पीएम तक के कार्यक्रम में पहुंच गया था।

बता दे कि ड्रग्स मामले से हटकर मामला जाली नोट की ओर मुड़ गया है और नवाब ने जाली नोट से जुड़े मामलों पर अपनी बातों को रखते हुए देवेंद्र फडणवीस पर अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन होने का आरोप लगाया है।

Updated : 2021-11-10T12:45:36+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top