Top
Home > ट्रेंडिंग > खौफनाक! संतान के खातिर रेप के बाद हत्या, फिर कलेजा पकाकर खाए पति-पत्नी

खौफनाक! संतान के खातिर रेप के बाद हत्या, फिर कलेजा पकाकर खाए पति-पत्नी

खौफनाक! संतान के खातिर रेप के बाद हत्या, फिर कलेजा पकाकर खाए पति-पत्नी
X

फाइल photo

कानपुर। थाना घाटमपुर के अंतर्गत भदरस गांव में दिल दहला देने वाली खबर प्रकाश में आने के बाद जो घटना का सच सामने आया है। उसे सुनने के बाद आपकी रूह कांप जाएगी और आप सिर्फ और सिर्फ आरोपियों के लिए कठोर से कठोर सजा की मांग करेंगे। मासूम बच्ची का क्षत विक्षत शव मिलने के बाद पुलिस कड़ी से कड़ी जोड़ कर क्षेत्रीय लोगों से जानकारी एकत्र कर रहे थे। इसी दौरान पुलिस के हाथ एक जानकारी लगी जिसके आधार पर पुलिस ने गांव के ही अंकुल और बीरन को हिरासत में ले लिया। दोनों ने पुलिस को पूछताछ में बताया चाचा परशुराम ने दोनों को बुलाकर बताया कि उसने एक किताब में पढ़ा है कि अगर किसी बच्ची का कलेजा व लिवर वह अपनी पत्नी के साथ मिलकर खाएं तो संतान की प्राप्ति होगी।

इसके लिए परशुराम ने अपने भतीजे अंकुल को कुछ पैसे दिए जिसको लेकर अंकुल ने पहले अपने दोस्त बीरन के साथ शराब पी और फिर पड़ोस में ही रहने वाली मासूम बच्ची हो पटाखा दिलाने के बहाने घर से लेकर आया। जंगल में पहले उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर मौत के घाट उतार दिया बाद में पेट फाड़कर अंदर से सारे अंग निकाल लिए और चाचा परशुराम को ले जाकर दे दिए। अंकुल ने बताया कि चाचा परशुराम ने चाची के साथ मिलकर बच्ची का कलेजा/लिवर खाया और बाकी अंग कुत्ते को खिलाया फिर पॉलिथीन में बांध कर फेंक दिए।

अंकुल ने बताया कि चाचा ने इस काम के लिए पैसे दिए थे। घटना का खुलासा करते हुए एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि उसी गांव में रहने वाले परशुराम की शादी 1999 में हुई थी लेकिन उसे कोई भी संतान नहीं हुआ थी। संतान की चाहत में उसने अपने भतीजे अंकुल को बच्ची का कलेजा लाने के लिए तैयार किया जिसमें उसके भतीजे ने अपने साथी वीरन कुरील का सहयोग लिया था इस काम के लिए परशुराम ने दोनों कुछ पैसे भी दिए थे। इसके चलते दोनों ने पूरी घटना को अंजाम दिया है।

Updated : 2020-11-17T15:41:45+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top