Home > News Window > सहायक पुलिस आयुक्त के अचानक निधन से सकते में मुंबईकर,नागपुर में फिर से लगा लॉकडाउन

सहायक पुलिस आयुक्त के अचानक निधन से सकते में मुंबईकर,नागपुर में फिर से लगा लॉकडाउन

कोरोना काल में जान हथेली पर रख कर धारावी के लोगों की खूब मदद की थी

सहायक पुलिस आयुक्त के अचानक निधन से सकते में मुंबईकर,नागपुर में फिर से लगा लॉकडाउन
X

मुंबई। सहायक पुलिस आयुक्त साकीनाका डिवीजन रमेश नागरे जिन्होंने धारावी में कोरोना काल के दौरान अपनी जान जोखिम में डालकर सभी की सेवा की, आज उनका आकस्मिक निधन हो गया। रमेश नागरे के निधन से मुंबईकर सकते में पड़ गए हैं। रमेश नागरे का खुद गृह मंत्री अनिल देशमुख ने भी कोरोना योद्दा के तौर पर सत्कार किया था .

राज्य में कोरोना के आंकड़े बढ़ने से टेंशन में सरकार

नागपुर के पालक मंत्री नितिन राउत ने ऐलान करते हुए कहा कि शहर में 15 से 21 मार्च तक पूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है. इसका मतलब यह है कि शहर में किसी को भी बाहर निकलने की इजाजत नहीं रहेगी, सिर्फ जरूरी सामानों की दुकानें खुली नजर आएगी. महाराष्ट्र में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के इस साल एक दिन में सबसे अधिक 13,659 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 22,52,057 हो गई।

लोगों की चिंता बढ़ी

नागपुर में बुधवार को 1710 नए मामले सामने आए थे. 173 दिन के बाद कोरोना के सबसे अधिक मामले एक दिन में आये जो एक रिकॉर्ड है. इस संख्‍या ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. नागपुर नगर निगम ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर कल कहा था कि कोरोना संक्रमण के नए मामले महिलाओं और 20 से 40 आयु वर्ग के लोगो में पाये जा रहे हैं. नगर निगम प्रशासन ने कहा था कि लोग कोरोना को हल्के में ले रहे हैं जो चिंता की बात है.

Updated : 2021-03-12T17:58:32+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top