Top
Home > News Window > Mumbai सिगनिया पर्ल इमारत का मामला गरमाया,रहिवासियों ने बिल्डर के खिलाफ खोला मोर्चा

Mumbai सिगनिया पर्ल इमारत का मामला गरमाया,रहिवासियों ने बिल्डर के खिलाफ खोला मोर्चा

Mumbai सिगनिया पर्ल इमारत का मामला गरमाया,रहिवासियों ने बिल्डर के खिलाफ खोला मोर्चा
X

मुंबई। इन दिनों बांद्रा बीकेसी के एक 20 मंजिला इमारत का मामला काफी गरमाया हुआ है। सिगनिया पर्ल इमारत के सोसायटी बनते ही इमारत का विकासक बौखला गया है, जिसके खिलाफ सोसायटी के लोगों ने अपना मोर्चा खोल दिया है। गौरतलब है कि वर्ष 2017 में कमल खेतान नामक विकासक ने 20 मंजिला इमारत का बीकेसी में सिगनिया पर्ल इमारत का निर्माण किया था। जिसमें कुल 80 आलीशान मकान बनाए हैं। इमारत को ओसी मिलने के पश्चात उन 80 मकानों में से 46 मकान धारकों को विकासक ने रहने के लिए मकान दे दिया है, जबकि उक्त इमारत का अधिकतर निर्माण काम अभी भी बाकी है।

बताया जाता है कि इस इमारत में रहने वाले लोगों ने विकासक को अलग रखकर जब से सोसायटी फार्म किया और अपने स्तर पर काम करना शुरू किया उसके बाद से विकासक कमल खेतान बौखला गया है। उसने इस मामले को न्यायालय में ले गया, जहां उसे हार का सामना करना पड़ा है। सोसायटी के लोगों का कहना है कि विकासक हमसे अपनी मर्जी का मेन्टेन्स वसूलता था, जिसका सबने विरोध किया था। अब सोसायटी के लोग ही विकासक को यहां से हटाकर अपने स्तर पर सोसायटी के माध्यम से काम करना चाहते है।

हाउस कीपिंग, सुरक्षा रक्षक व अन्य काम के लिए वे अब अपना आदमी रखना चाहते है तो विकासक उसका विरोध कर रहा है। जिसके चलते यह मामला इन दिनों गरमाया हुआ है। सोसायटी के चेयरमैन अमरपाल सेठी ने बताया कि बिल्डर कमल खेतान की ज्यादती से पूरे सोसाइटी के लोग त्रस्त हैं हम उसके खिलाफ न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे। सोसाइटी के सचिव दीपक भगनानी ने बताया कि बिल्डर ने करीब 18 करोड़ रुपए टेक्स का बैलेंस रखा है, जो वह भरने को तैयार नही है। इस संबन्ध में बिल्डर कमल खेतान से संपर्क करने की बार-बार कोशिश की गई, मगर वह फोन उठाने को तैयार नहीं हुआ।





Updated : 2021-01-04T14:13:08+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top