Top
Home > News Window > Pfizer-BioNTech के बाद अमेरिका ने Moderna को भी दी वैक्सीन बनाने की मंजूरी

Pfizer-BioNTech के बाद अमेरिका ने Moderna को भी दी वैक्सीन बनाने की मंजूरी

Pfizer-BioNTech के बाद अमेरिका ने Moderna को भी दी वैक्सीन बनाने की मंजूरी
X

मुंबई : दुनिया भर में कोरोना लगातार अपने पैर पसार रहा है। इसी बढ़ते संक्रमण के बीच पूरा विश्व वैक्सीन का बेसबरी से इंतज़ार कर रहा है। लगातार लगभग 9 महीनों से वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीन पर काम चल रहा है। वहीं, अमेरिका ने बीते एक हफ्ते में 2 वैक्सीन Pfizer-BioNTech और Moderna को मंजूरी भी दे दी। विशेषज्ञों के अनुसार मॉडर्ना को Pfizer-BioNTech वैक्सीन के मुकाबले ज्यादा वोटों के साथ मंज़ूरी मिली है।

वैक्सीन की रेस में पूरी दुनिया के साइनटिस्ट और कंपनियां लगी हुई हैं, लगभग 150 से ज्यादा देश वैक्सीन पर काम कर रहे हैं। सभी देश कोरोना के संक्रमण को खत्म करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं, इसी रेस में विश्व की सबसे बड़ी ताकत अमेरिका भी नहीं चूक रहा।

अमेरिका ने पिछले हफ्ते Pfizer-BioNTech वैक्सीन को मंज़ूरी दी थी, तो वहीं गुरुवार को मॉडर्ना (moderna) के इमरजेंसी यूज़ को अमेरिका के एक्सपर्ट पैनल (US Expert Panel) के 21 विशेषज्ञों में से 20 ने अप्रूवल दे दिया है।

Pfizer और मॉडर्ना दोनों ही वैक्सीन 95% कारगर साबित हो रही है। लेकिन, इसके बावजूद कुछ लोगों को इसके साईड इफैक्ट्स भी हो रहे हैं।

आपको बता दें कि, इस वैक्सीन को तैयार करने के लिए अमेरिका ने 2.5 बिलियन डॉलर की सहयोग राशी दी है। गौर करने वाली बात तो ये है कि इस वैक्सीन को डेवलप करने के लिए अमेरिकी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के वैज्ञानिकों की मदद ली गई है, जो मैसाचुसेट्स की एक छोटी सी बायोटेक कंपनी है।

इस वैक्सीन के लोगों तक पहुंचनें से पहले अमेरिका की फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन मॉडर्ना को इमरजेंसी यूज़ के लिए ऑथराइज़ कर सकता है। मॉडर्ना वैक्सीन की प्रिपरेशन हो गई है और इसकी 60 लाख डोज़ की शिपिंग आने वाले 2 दिनों में कि जा सकती है।

Updated : 18 Dec 2020 7:52 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top