Home > News Window > Ulhasnagar:मैक्स महाराष्ट्र की धमक से रूका बाल-विवाह,गृहमंत्री अनिल देशमुख ने की तारीफ

Ulhasnagar:मैक्स महाराष्ट्र की धमक से रूका बाल-विवाह,गृहमंत्री अनिल देशमुख ने की तारीफ

Ulhasnagar:मैक्स महाराष्ट्र की धमक से रूका बाल-विवाह,गृहमंत्री अनिल देशमुख ने की तारीफ
X

-किरण सोनावणे-

मुंबई। कोरोना संकट के दौरान महाराष्ट्र में बाल विवाह की संख्या बढ़ी है। ऐसे बाल विवाह को रोकने के लिए सरकारी स्तर पर हर प्रयास किए जा रहे हैं। पर बाल विवाह अभी भी कई जगहों पर गुप्त रूप से और खुले तौर पर प्रचलित है। हमने आदिवासी पाडा, वैदू समुदाय और बंजारा समुदाय आदि बाल विवाह की खबरें सुनी हैं। पर मुंबई से सटे उल्हासनगर में बाल विवाह का होना अपने आप में अचंभित करने का मामला सामने आया है। यह शादी बौद्ध तरीके से आयोजित करने का प्रयास किया जा रहा था। इस संबंध में इस परिवार के ही एक जागरूक रिश्तेदार ने मैक्स महाराष्ट्र के कार्यालय में फोन किया और हमें इस बारे में सूचित किया।

एक 13 वर्षीय लड़की की शादी जो 8 वीं में पढ़ती है। अम्बरनाथ के 27 वर्षीय व्यक्ति से हो रही है,आपसे अनुरोध करते है कुछ भी हो इस शादी को रोकना चाहिए। मैक्स महाराष्ट्र ने तुरंत विठ्ठलवाड़ी पुलिस स्टेशन से संपर्क किया और इंस्पेक्टर कन्हैया थोरात ने तुरंत कार्रवाई की और शादी समारोह चल ही रहा था। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है। चौंकाने वाली बात यह है कि माता-पिता ने पुलिस को लड़की का जन्म प्रमाण पत्र और आधार कार्ड नहीं दिखाया। पुलिस को आखिरकार उस स्कूल से सर्टिफिकेट मिल ही गया,जहां लड़की पढ़ रही थी,लड़की केवल 13 साल और 2 महीने की थी।

इस मामले में पांच लोगों दामाद अभिजीत गौतम राजगुरु (उम्र 27), बच्चे की मां सुनीता राजगुरु, बच्चे के पिता गौतम त्र्यंबक राजगुरु, बेटी की मां सविता देवकर, पिता राहुल भानुदास देवकर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। मैक्स महाराष्ट्र ने सरकारी अधिकारियों के साथ नियमित कवरेज और साक्षात्कार के माध्यम से राज्य में बाल विवाह के बारे में जागरूकता बढ़ाना जारी रखा है। इस संबंध में क्या नियम हैं और अगर बाल विवाह हो रहा है, तो आप एक जागरूक नागरिक के रूप में पुलिस को जानकारी दे सकते हैं।




Updated : 2021-03-03T18:53:06+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top