Top
Home > ट्रेंडिंग > जलगांव में हुआ शहीद यश का अंतिम संस्कार,सड़कों के किनारे खड़े लोग रोते रहे

जलगांव में हुआ शहीद यश का अंतिम संस्कार,सड़कों के किनारे खड़े लोग रोते रहे

जलगांव में हुआ शहीद यश का अंतिम संस्कार,सड़कों के किनारे खड़े लोग रोते रहे
X

मुंबई। 26 नवंबर को श्रीनगर में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए पिंपलगांव के यश दिगंबर देशमुख (21) का पूरे राजकीय सम्मान के साथ शनिवार को अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार से पहले शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए पूरे गांव में एक तिरंगा यात्रा भी निकाली गई। इस दौरान सड़कों के किनारे खड़े लोग रोते हुए नजर आए।उन्हें अंतिम विदाई देने के लिए जिले के गार्जियन मंत्री गुलाबराव पाटिल, कृषि मंत्री दादा भूसे, स्थानीय सांसद उन्मेष पाटिल, विधायक मंगेश चव्हाण भी मौजूद थे।शहीद यश दिगंबर देशमुख (21) का पार्थिव शरीर शुक्रवार रात विशेष विमान से नासिक लाया गया। यहां से विशेष वाहन में इसे शनिवार सुबह 9 बजे चालीसगांव के पिंपलगांव लाया गया।

तकरीबन तीन घंटे तक लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखे पार्थिव को दोपहर एक बजे के आसपास अग्नि में प्रवाहित कर दिया गया। शहीद के पार्थिव को तिरंगे में लपेट कर रखा गया था। शहीद को विदाई देने के लिए सेना के कई बड़े अधिकारी भी नासिक से उनके गांव आये थे। शहीद की चिता को उनके बड़े भाई पंकज ने मुखाग्नि दी। इस दौरान मंत्री दादा भुसे ने कहा कि शहीद वीर जवान देशमुख के परिवार को महाराष्ट्र सरकार से एक करोड़ रुपये की सहायता राशि दी जाएगी। वहीं विधायक मंगेश चव्हाण ने आश्वासन दिया कि वे वीर यश की याद में गांव में एक स्मारक का निर्माण करवाएंगे। यश दिगंबर देशमुख पिछले ही साल सेना में भर्ती हुए थे। यश मराठा रेजिमेंट में तैनात थे। शहीद के सम्मान में पूरे इलाके में दो दिन तक दुकानों को बंद रखने का फैसला लिया गया है।

Updated : 2020-11-28T20:19:06+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top