Home > News Window > Maharashtra: व्यापारी की बेरूखी से किसान ने लगाई फांसी,सदमे में गई छोटे भाई की जान

Maharashtra: व्यापारी की बेरूखी से किसान ने लगाई फांसी,सदमे में गई छोटे भाई की जान

Maharashtra: व्यापारी की बेरूखी से किसान ने लगाई फांसी,सदमे में गई छोटे भाई की जान
X

मुंबई। कृषि कानूनों के विरोध के बीच महाराष्ट्र के अमरावती में एक किसान ने आत्महत्या कर ली है। मृतक किसान संतरे का उत्पादक था। परिवार का आरोप है संतरे की बोली लगाने वाले व्यापारी ने ऐन वक्त पर फसल लेने से इनकार कर दिया। जब किसान ने सवाल किया तो उसकी जमकर पिटाई कर दी। आहत किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दुखद बात यह है कि किसान का अंतिम संस्कार कर लौट रहे उनके छोटे भाई की हार्ट अटैक से मौत हो गई।

अमरावती पुलिस के मुताबिक, अशोक भूयार के किसान का शव पंखे से लटका हुआ मिला। आत्महत्या से पहले अशोक ने शिक्षा राज्यमंत्री मंत्री और बड़े किसान नेता बच्चू कडू को एक चिट्ठी भी लिखी थी, जिसमें मदद की गुहार लगाई गई थी। राज्य से बाहर होने के कारण कडू किसान की मदद नहीं कर सके। परिवार के मुताबिक, किसान ने अपने संतरे की फसल बेचने के लिए पहले ही व्यापारी अमीन शेख और गफूर शेख से करार कर लिया था।

मंगलवार को अशोक पांडुरंग भुयार व्यापारी से पैसे मांगने गया था। उस समय व्यापारी ने उसकी बाग में पैदा हुआ संतरा खरीदने से मना कर दिया। अशोक व्यापारी से मिन्नत करने लगा। पर व्यापारी ने किसान की पिटाई कर दी। किसान ने अपने साथ हुई मारपीट की पुलिस स्टेशन में शिकायत भी की थी। परिवार का आरोप था कि जब किसान पुलिस स्टेशन में शिकायत करने गया तो थानेदार ने भी उसकी पिटाई की, जिसके बाद किसान ने आत्महत्या कर ली। अशोक की मौत के बाद उसके रिश्तेदारों ने पुलिस स्टेशन पहुंच जमकर हंगामा किया। वे इंस्पेक्टर और बीट कांस्टेबल पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।



Updated : 2020-12-23T20:45:46+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top