Top
Home > News Window > महाराष्ट्र सरकार वसूली मे व्यस्त ! केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्री की कोरोना के बहाने अजीब टिप्पणी

महाराष्ट्र सरकार वसूली मे व्यस्त ! केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्री की कोरोना के बहाने अजीब टिप्पणी

महाराष्ट्र सरकार वसूली मे व्यस्त ! केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्री की कोरोना के बहाने अजीब टिप्पणी
X

मुंबई : देशभर में कोरोना के बढ़ते हुए आंकड़ों को कैसे रोका जाए और वैक्सीन की कमी को लेकर केंद्रीय स्वास्थय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने महाराष्ट्र सरकार को भी पत्र लिखा है इस पत्र के जरिये डॉ हर्षवर्धन ने महाराष्ट्र सरकार को वसूली में व्यस्त सरकार बताया है. केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि ....

  • कोरोना को 1 साल हो गए फिर भी कई राज्यों में कोरोना कंट्र्रोल नहीं हुआ
  • केंद्र सरकार सभी राज्यों से चर्चा कर वैक्सीन उपलध करवा रही है
  • वैक्सिनेशन का मुख्य उद्देश्य मृत्युदर को कमी करना और लोगो को कोरोना के संक्रमण से दूर रखना है इसलिए 45 साल के ऊपर के लोगो का चयन किया गया है.


  • महाराष्ट्र सरकार ने आरोग्य कर्मचारियों को 86 प्रतिशत लोगो को वैक्सीन दी गयी है जबकि दूसरे 10 राज्यों ने 90 प्रतिशत का आकड़ा पार किया है
  • महाराष्ट्र सरकार ने आरोग्य कर्मचारियों को 41 प्रतिशत लोगो को वैक्सीन का दुसरा डोज दिया गया है जबकि दूसरे 12 राज्यों ने 60 प्रतिशत का आकड़ा पार किया है
  • महाराष्ट्र सरकार 73 प्रतिशत फ्रंटलाइन वर्कर को वैक्सीन दे चुकी है -जबकि दूसरे 5 राज्यों ने 85 प्रतिशत का आकड़ा पार किया है.
  • महाराष्ट्र सरकार फ्रंटलाइन वर्कर को दूसरा डोज 41 प्रतिशत लोगो को दे चुकी है जबकि दूसरे 6 राज्यों ने 45 प्रतिशत का आकड़ा पार किया है.
  • 25 प्रतिशत सीनियर सिटीजन को महाराष्ट्र में वैक्सीन दिया गया है जबकि 4 राज्यों में 50 प्रतिशत से ज्यादा लोगो को दिया गया है
  • पिछले साल भर महाराष्ट्र सरकार ने लापरवाही का काम किया है यही वजह है की महाराष्ट्र कोरोना को नियंत्राण करने में असमर्थ नजर आ रहा है. राज्य सरकार को लगातार मदद की है जरूरत की सारी चीजे उपलध कराई है.आज महाराष्ट्र में ना केवल मृतकों की संख्या सबसे ज्यादा है बल्कि मरीजों की संख्या भी विश्व में सबसे ज्यादाबढ़ती दिखाई दे रही है. टेस्टिंग में कोई सुधार नहीं हुआ और और ना ही मरीजों को डिटेक्ट किया जा रहा है

महाराष्ट्र सरकार लोगो की जान खतरे में डाल रही है सिर्फ व्यक्तिक वसूली के चलते काम नहीं हो रहे है. इस संकट से बाहर निकलने के लिए बहुत कुछ करना पड़ेगा जिसके लिए केंद्र सरकार हर संभव मदद करने को तैयार है.

अभी तक मैं चुप रहा मेरी चुप्पी को मेरी कमजोरी ना समझे इसलिए बोलना पड रहा है.राजनीति करना बहोत आसान है लेकिन अच्छा सुशाशन और आरोग्य सुविधा निर्माण करना ही असली क्षमता दिखाती है


Updated : 8 April 2021 6:49 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top