Home > News Window > लखनऊ के अच्छे दिन, सीएम योगी के हाथों BSE में लखनऊ नगर निगम बॉन्ड हुई लिस्टिंग

लखनऊ के अच्छे दिन, सीएम योगी के हाथों BSE में लखनऊ नगर निगम बॉन्ड हुई लिस्टिंग

लखनऊ के अच्छे दिन, सीएम योगी के हाथों BSE में लखनऊ नगर निगम बॉन्ड हुई लिस्टिंग
X

मुंबई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में पहुंचकर लखनऊ नगरनिगम के 200 करोड़ रुपये के बॉन्ड की लिस्टिंग बेल बजाकर की। लखनऊ नगर निगम का बॉन्ड 200 करोड़ रुपये का है। लखनऊ नगर निगम बॉन्ड जारी करने वाला उत्तर भारत का पहला नगर निगम बन गया है। बॉन्ड की लिस्टिंग के मौके पर सीएम योगी ने कहा कोरोना के समय में, लखनऊ नगर निगम 200 करोड़ रुपये के नगरपालिका बॉन्ड की लिस्टिंग के साथ 'आत्मनिर्भर' लक्ष्य को प्राप्त करने की दिशा में आगे बढ़ेगा। निगम अपने अधिकार क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए प्रतिबद्ध है। अजय द्विवेदी का कहना है कि म्यूनिसिपल बॉन्ड का फायदा सीधे शहरवासियों को मिलेगा। प्रदेश सरकार, लखनऊ नगर निगम की उपलब्धि का अनुकरण करने के लिए राज्य के अन्य स्थानीय निकायों को भी प्रोत्साहित करने की तैयारी में है। बॉन्ड के माध्यम से जुटाई गई धनराशि को राज्य की राजधानी में विभिन्न बुनियादी ढांचागत योजनाओं में निवेश किया जाएगा।

जिस तरह लखनऊ नगर निगम के बॉन्ड को रेटिंग मिली है उसको देखते हुए गाजियाबाद, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर और आगरा नगर निगमों के भी बॉन्ड जारी किए जाएंगे। तीन महीने में गाजियाबाद नगर निगम का बॉन्ड जारी किया जाने वाला है लखनऊ नगर निगम के बॉन्ड पर निवेशकों को 8.5 फीसदी का वार्षिक ब्याज दिया जाएगा। म्युनिसिपल या नगर निगम बॉन्ड शहरी स्थानीय निकायों द्वारा जारी किए जाते हैं। जब नगर निगम को अपने प्रोजेक्ट करने, सड़क या स्कूल बनाने या सरकारी कामों के लिए पैसे की जरूरत होती है तो ऐसी स्थिति में वह भी बॉन्ड जारी कर सकती है। इस तरह के बॉन्ड को म्युनिसिपल बॉन्ड कहते हैं। यह भी काफी सुरक्षित होते हैं और इन पर भी ब्याज दर अच्छी मिल जाती है। जिसका सीधा फायदा नगर के विकास मे होता है।


Updated : 2020-12-02T15:14:32+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top