Top
Home > News Window > मदिरा चालू, मंदिर बंद- भाजपा ने पूरे महाराष्ट्र में छेड़ा आंदोलन

'मदिरा चालू, मंदिर बंद'- भाजपा ने पूरे महाराष्ट्र में छेड़ा आंदोलन

मदिरा चालू, मंदिर बंद- भाजपा ने पूरे महाराष्ट्र में छेड़ा आंदोलन
X

मुंबई। कोरोना संक्रमण की वजह से पिछले 6 महीने से बंद चल रहे मंदिरों को खोलने की मांग करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने मुंबई समेत राज्य के कई शहरों में प्रदर्शन शुरू कर दिया गया है। इसी कड़ी में नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर अपने समर्थकों के साथ मुंबई के प्रसिद्ध सिद्धिविनायक मंदिर के पास प्रदर्शन के लिए पहुंचे थे। शिर्डी के साईं मंदिर के बाहर भी स्थानीय लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भी कुछ दिन पहले सीएम ठाकरे को पत्र लिखकर राज्य के सभी मंदिरों को खोलने के लिए कहा था। अपने पत्र में राज्यपाल ने कहा था कि जब बार और मॉल खुल सकते हैं तो मंदिर क्यों नहीं? राज्य भर के मंदिरों को खोलने के फैसले में सरकार द्वारा किए जा रहे देरी को लेकर महाराष्ट्र भर के धार्मिक नेता और भक्त महाविकास आघाड़ी सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए कुछ घंटों के लिए आज उपवास रखने का निर्णय लिया है।


सिद्धिविनायक के बाहर प्रदर्शन करने पहुंचे नेता प्रसाद लाड ने कहा, 'हम मांग कर रहे हैं कि हमें सिद्धिविनायक मंदिर में प्रवेश करने दिया जाए। अगर वे हमें प्रवेश नहीं करने देते हैं, तो हम मंदिर में घुसने का अपना रास्ता बनाएंगे। यह आंदोलन पूरे महाराष्ट्र में हो रहा है, क्योंकि हम चाहते हैं कि राज्य के सभी मंदिरों को फिर से खोल दिया जाए।'भाजपा ने कहा कि, वह विरोध प्रदर्शन में भाग लेगी और मंदिरों को फिर से खोलने की मांग करेगी। पार्टी की तरफ से कहा गया कि, "एमवीए सरकार ने बार और रेस्त्रां को शुरू करने की अनुमति दी है, लेकिन मंदिरों को फिर से खोलने का निर्णय नहीं ले रही है। जबकि लाखों लोग यह चाहते हैं। पार्टी ने आगे कहा कि, 13 अक्टूबर को मंदिरों के बाहर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।


Updated : 2020-10-13T14:20:33+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top