Top
Home > News Window > बंगाल की तुलना महाराष्ट्र से किस बात पर की गृह मंत्री अमित शाह ने..

बंगाल की तुलना महाराष्ट्र से किस बात पर की गृह मंत्री अमित शाह ने..

बंगाल की तुलना महाराष्ट्र से किस बात पर की गृह मंत्री अमित शाह ने..
X

बोलपुर। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि विधानसभा चुनाव में बंगाल का ही धरती पुत्र राज्य का मुख्यमंत्री बनेगा. अपनी बंगाल यात्रा के दूसरे और आखिरी दिन यहां संवाददाताओं से बातचीत में श्री शाह ने बाहरी व स्थानीय के विवाद पर कहा कि जब ममता बनर्जी कांग्रेस में थीं, तब इंदिरा गांधी या नरसिम्हा राव या फिर कांग्रेस के अन्य केंद्रीय नेता बंगाल आते थे, तो क्या वह बाहरी थे? उन्होंने कहा कि बंगाल देश का 30 फीसदी औद्योगिक उत्पादन करता था, आज 3.5 फीसदी करता है. 1960 में रोजगार 27 फीसदी था, आज चार फीसदी है. 1960 में प्रति व्यक्ति आय महाराष्ट्र की तुलना में 105 फीसदी थी,

आज वह महाराष्ट्र की आधी भी नहीं. बंदरगाहों में आवाजाही कभी कुल आवाजाही की 42 फीसदी होती थी, आज 10 फीसदी भी नहीं. 1950 में कुल फार्मा उत्पादों का 70 फीसदी उत्पादन होता था, आज 7 फीसदी है. जूट की अधिकांश मिलें बंद हो गयी हैं. उद्योग में बंगाल 20वें स्थान पर है. राज्य की आय वृद्धि के मामले में 16वें स्थान पर. श्री शाह ने कहा कि बंगाल में जन्म लेने वाले हर बच्चे के माथे पर 50 हजार रुपये का ऋण है. प्राथमिक स्वास्थ्य की बात करें, तो प्रति एक हजार लोगों के लिए बेड के लिहाज से बंगाल 25वें स्थान पर है. प्राथमिक चिकित्सा में डॉक्टरों के 39 फीसदी पद रिक्त हैं. 87 फीसदी सर्जनों के पद रिक्त हैं. 90 फीसदी प्राथमिक स्कूलों में डेस्क नहीं हैं. 30 फीसदी स्कूलों में कक्षाएं नहीं. 10 फीसदी स्कूलों में बिजली नहीं. कॉलेजों के लिहाज से बंगाल देश में 28वें स्थान पर है।

Updated : 20 Dec 2020 3:00 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top