Latest News
Home > News Window > अमरावती में भारी बारिश, यशोमती ठाकुर, नवनीत राणा और अनिल बोंडे ने किया इलाकों का निरीक्षण दौरा

अमरावती में भारी बारिश, यशोमती ठाकुर, नवनीत राणा और अनिल बोंडे ने किया इलाकों का निरीक्षण दौरा

एक रात की बरसात से बहुत नुकसान हुआ है अमरावती को, सरकार की तरफ से कोई राहत मदद अब तक नहीं आई सामने, नेताओं ने किया दौरा तो प्रशासन ने की भोजन की व्यवस्था!!

X

अमरावती: आधी रात से लगातार बारिश हो रही है। इसलिए नदी उफान पर है। अमरावती में तिवसा के पास पिंगलाई नदी में बाढ़ आ गई है। कई घरों में पानी भर गया। हजारों हेक्टेयर में कृषि भी पानी के नीचे आ गई है। इससे किसानों को भारी नुकसान हुआ है तिवसा निर्वाचन क्षेत्र बुरी तरह जलमग्न होने से प्रभावित हो गया है। इस बीच बाढ़ की स्थिति के कारण कई लोग बेघर हो गए हैं, इसलिए प्रशासन ने नागरिकों के लिए भोजन की व्यवस्था की है। इस बीच अमरावती के सांसद नवनीत राणा, पूर्व पालक मंत्री यशोमती ठाकुर ने तिवसा तालुका का निरीक्षण किया है।

नागरिकों के घरों में पानी घुसने से हुए भारी नुकसान का निरीक्षण किया है। इसके अलावा सांसद अनिल बोंडे भी अमरावती के कई हिस्सों में हुए नुकसान को लेकर निरीक्षण दौरे पर हैं। वह प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण कर रहे हैं, प्राकृतिक आपदा के कारण तत्काल मुआवजे की मांग की गई है। अमरावती में उमेश कोल्हे की गूंज के बाद भारी बरसात से तबाही ने अमरावती को झकझोर कर रख दिया है, नेताओं के दौरे के बाद सरकार भी हरकत में आएगी लोगों को नुकसान की सरकार से मदद की जरूरत है ऐसे में सरकार कब तक इन्हें देती राहत पैकेज जिनका सब कुछ बरसात में सब कुछ बर्बाद हो गया है।

यशोमती ठाकुर, पूर्व पालक मंत्री, अमरावती ने किया दौरा

पूर्व पालक मंत्री ने मैक्स महाराष्ट्र से बातचीत के दौरान कहा कि अमरावती के 40 से अधिक गांव इस तूफानी बरसात के कारण प्रभावित हुए है किसानों को बड़े पैमाने पर इससे नुकसान हुआ है, साथ ही काफी घर भी इस बरसात से जलमग्न होकर तहस हो गए है। जिला प्रशासन और तहसीलदार को मैंने अपने स्तर पर मदद करने का निवेदन किया है। मुझे उम्मीद है कि इन बरसात से प्रभावित अमरावती के लोगों को सरकार की ओर से मुआवजा के रूप में मदद दी जाए जो सरकार का कर्तव्य है।

नवनीत राणा, निर्दलीय सांसद ने किया दौरा

अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा ने भी अमरावती के कई इलाकों का दौरा किया। उन्होंने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि अमरावती में बरसात के पानी के निकासी के कोई साधन नहीं होने के चलते बरसाती पानी लोगों के घरों और स्कूलों में भर गया जिससे काफी नुकसान हुआ है। कई जगहों के रास्ते खराब हो गए कई जगहों पर बने पुल भी ध्वस्त हो गए है। हमने स्थानीय प्रशासन से बात की है लोगों को हर संभव मदद के लिए हमारी ओर से प्रयास किया जाएगा राज्य सरकार तक भी इस नुकसान की सारी जानकारी पहुंचाई जाएगी।

अनिल बोंडे, राज्यसभा, सांसद भाजपा ने किया दौरा

भारी बरसात से एक रात में अमरावती की तस्वीर बदल गई कई जगहों पर जलमग्न स्थिति देखने को मिल रही नदी का पानी लोगों के घरों और खेतों में आने के बाद भारी मात्रा में यहां के लोगों और किसानों को नुकसान पहुंचा है। अनिल बोंडे ने कहा कि इसको लेकर मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से बात करेगे यहा के लिए हालत के जायजे को उनके सामने रखेंगे और लोगों को सरकार की ओर से मदद दी जाए उनका यह प्रयास रहेगा।

Updated : 5 July 2022 1:51 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top