Home > News Window > UP: हाथी सिंह ने तोड़ा आजीवन ब्रह्मचर्य का प्रण,पंचायत चुनाव के लिए रचाई शादी,पत्नी बनी प्रत्याशी

UP: हाथी सिंह ने तोड़ा आजीवन ब्रह्मचर्य का प्रण,पंचायत चुनाव के लिए रचाई शादी,पत्नी बनी प्रत्याशी

UP: हाथी सिंह ने तोड़ा आजीवन ब्रह्मचर्य का प्रण,पंचायत चुनाव के लिए रचाई शादी,पत्नी बनी प्रत्याशी
X

फाइल photo

बलिया। जिंदगी भर शादी न करने का प्रण करने वाले भी सात फेरे ले रहे हैं। बलिया के विकासखंड मुरलीछपरा के ग्राम पंचायत शिवपुर कर्ण छपरा एक प्रत्याशी ऐसे हैं जिनको आरक्षण भी मात नहीं दे पाया। 45 वर्षीय हाथी सिंह ने अपनी पंचायत सीट महिला के लिए आरक्षित घोषित हो जाने के बाद तत्काल शादी कर ली है। हाथी सिंह जिस सीट से इस बार जीत की उम्मीद लगाए थे, वह सीट महिलाओं के लिए आरक्षित घोषित कर दी गई है। इस पर उनके समर्थकों ने सुझाव दिया कि वह शादी कर लें तो उनकी पत्नी चुनाव लड़ सकती है।

हाथी सिंह ने इस सुझाव पर अमल करते हुए शादी करने की ठान ली। पहले बिहार की अदालत में कोर्ट मैरिज की। इसके बाद 26 मार्च को गांव के धर्मनाथजी मंदिर में शादी कर ली। उन्होंने कहा कि 13 अप्रैल को नामांकन से पहले शादी करनी थी। बिना मुहूर्त ही ही उन्होंने शादी रचा ली। उनकी दुल्हन अभी स्नातक स्तर की पढ़ाई कर रही है और अब ग्राम पंचायत चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं। हाथी सिंह ने कहा कि वह पिछले पांच सालों से प्रधानी चुनाव जीतने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं और उनके समर्थक भी प्रचार में पूरी तरह जुटे हैं। उन्होंने कहा कि मैंने जीवन में कभी शादी नहीं करने का फैसला किया था,मेरी मां 80 साल की हैं और वह चुनाव नहीं लड़ सकती थीं।

स्नातक की पढ़ाई कर रही पत्नी बनी प्रत्याशी

उनकी हाथी सिंह ने तोड़ा आजीवन ब्रह्मचर्य का प्रण,पंचायत चुनाव के लिए रचाई शादी,पत्नी बनी प्रत्याशी स्नातक की पढ़ाई कर रही हैं और पंचायत चुनाव लड़ने को तैयार है. हाथी सिंह शादी करने के बाद हनीमून पर जाने की बजाए सीधे चुनावी प्रचार में जुट गए हैँ. 13 अप्रैल को बलिया में पंचायत चुनाव की नामांकन प्रक्रिया शुरू होगी, जिसमें हाथी सिंह अपनी पत्नी का नामांकन कराएंगे.

Updated : 2021-03-31T20:06:07+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top