Top
Home > News Window > Municipal Election:क्या पहली ही अग्निपरीक्षा में अपने गढ़ में असफल साबित हुए हैं हार्दिक पटेल?

Municipal Election:क्या पहली ही अग्निपरीक्षा में अपने गढ़ में असफल साबित हुए हैं हार्दिक पटेल?

Municipal Election:क्या पहली  ही अग्निपरीक्षा में अपने गढ़ में असफल साबित हुए हैं हार्दिक पटेल?
X

अहमदाबाद। हार्दिक पटेल पहली ही अग्निपरीक्षा में असफल हुए हैं। गुजरात में पाटीदार समाज के आरक्षण समेत तमाम मुद्दों पर खुद को बड़ा पाटीदार नेता बनाने की कोशिश कर रहे हार्दिक इस बार गुजरात के निकाय चुनाव में पाटीदारों के गढ़ क्षेत्र में ही बुरी तरह से नाकाम साबित हुए हैं। गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल निकाय चुनाव की परीक्षा में फेल हुए हैं ताज्जुब की बात ये कि हार्दिक खुद जिस पाटीदार समाज से आते हैं, उसके गढ़ सूरत में कांग्रेस का खाता तक नहीं खुला है।

गुजरात के निकाय चुनाव में बीजेपी को चार नगर निगम में बहुमत मिला है। वहीं सूरत जिले में भी भाजपा को 93 सीटों पर जीत मिली है। दूसरे स्थान पर अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी है, जिसे कि 23 सीट पर जीत मिली है। वहीं सबसे निराशानजक प्रदर्शन कांग्रेस का रहा है, जो कि यहां निकाय चुनाव में खाता तक नहीं खोल सकी है। खास बात ये कि पाटीदारों के गढ़ सूरत में कांग्रेस का यह प्रदर्शन ऐसे वक्त में है, जब कि पार्टी की कमान पाटीदार नेता हार्दिक पटेल के हाथ में है। अतीत याद करें तो कुछ सालों पहले कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल को गुजरात के एक बड़े पाटीदार नेता के रूप में प्रॉजेक्ट किया जा रहा था।

Updated : 2021-02-23T21:11:59+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top