Home > News Window > अब महाराष्ट्र के सभी सरकारी कार्यालयों हलौ नहीं वंदे मातरम से होगा संबोधन

अब महाराष्ट्र के सभी सरकारी कार्यालयों हलौ नहीं वंदे मातरम से होगा संबोधन

सरकारी कार्यालयों में हैलौ नहीं वंदे मातरम से से बातचीत की शुरुआत करेंगे सरकारी कर्मचारी अधिकारी. क्या सख्ती से इसे सरकार लागू करेगी?

अब महाराष्ट्र के सभी सरकारी कार्यालयों हलौ नहीं वंदे मातरम से होगा संबोधन
X

मुंबई: सांस्कृतिक मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने किया ऐलान कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर अब से महाराष्ट्र में सभी सरकारी कार्यालयों में अधिकारी और कर्मचारी फोन पर अपनी बात की शुरुआत वंदे मातरम से करेंगे। हॅलो के बजाय वंदे मातरम कहना अनिवार्य होगा, जल्द इस सिलसिले में आधिकारिक आदेश भी निकाला जाएगा। सुधीर मुनगंटीवार ने आगे कहा कि, हॅलो इस विदेशी शब्द का त्याग करना जरूरी है। वंदे मातरम सिर्फ एक शब्द नहीं है बल्कि हर भारतीय की भावना है। सरकार ने इसको लेकर अभी तक कोई इसको लेकर सख्ती नियम नहीं बनाया है जिसकी घोषणा सांस्कृतिक मंत्री लेकिन वंदे मातरम कहना अनिवार्य है।



आगे अपने औचित्य में सांस्कृतिक मंत्री मुनगंटीवार ने कहा, ''इस रचना का एक-एक शब्द, जो भारतीय मन का केंद्र बिंदु है, देशभक्ति की भावना जगाता है। 1800 में जब से टेलीफोन अस्तित्व में आया, तब से हम हेलो शब्द से बातचीत शुरू कर रहे हैं लेकिन सभी कार्यालयों में सरकारी कर्मचारी वंदे मातरम से शुरू करेंगे। ''महाराष्ट्र भर के सरकारी कार्यालयों के कर्मचारी वंदे मातरम के साथ अपनी टेली-वार्तालाप शुरू करेंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा मंत्रिपरिषद के विभागों की सूची जारी करने के बाद भाजपा नेता सुधीर मुनगंटीवार को सांस्कृतिक मामलों का मंत्री बनाए जाने के कुछ मिनट बाद इसकी घोषणा की गई। उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य 'विदेशी' शब्द हैलो को अलविदा कहकर स्वदेशी का पालन करना है।


आज सांस्कृतिक मंत्री सुधीर मुनगंटीवार नियोजन भवन चंद्रपुर में स्वास्थ्य मामलों की समीक्षा की गई। गंभीर बात यह है कि चंद्रपुर जिला, जहां हाइड्रोसील के सबसे ज्यादा 2800 मरीज हैं, राज्य में पहला जिला है। जिले में इन सभी मरीजों को राहत देने के लिए विशेष कार्रवाई कार्यक्रम लागू करने के निर्देश स्वास्थ्य व्यवस्था को दिए गए। @InfoChandrapur पर इसकी पूरी जानकारी ली जा सकती है।

इससे पहले सांस्कृतिक मंत्री मुनगंटीवार ने आईएमए की महिला विंग द्वारा आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में शामिल हुए। वृक्षारोपण के लिए उनकी पहल को सराहनीय बताया, इस अवसर पर उन्होंने यह भावना व्यक्त की कि जब पर्यावरण बिगड़ रहा है तो पर्यावरण की रक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। #वृक्षारोपण

प्रियदर्शिनी सांस्कृतिक हॉल में चंद्रपुर जिला प्रशासन द्वारा आयोजित देशभक्ति गीतों के कार्यक्रम में बतौर विशेष अतिथि के तौर पर सांस्कृतिक मंत्री ने सुधीर मुनगंटीवार शिरकत की.उन्होंने जोर देकर कहा कि इस अमृत महोत्सव वर्ष में सभी को वीरता के इतिहास को याद रखना चाहिए। इस मौके पर कई गणमान्य लोग मौजूद थे।


Updated : 2022-08-14T23:28:35+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top