Home > News Window > किसान आंदोलन:सरकार के मन में खोट, इसलिए नहीं करना चाहती बात, हम तैयार

किसान आंदोलन:सरकार के मन में खोट, इसलिए नहीं करना चाहती बात, हम तैयार

किसान आंदोलन:सरकार के मन में खोट, इसलिए नहीं करना चाहती बात, हम तैयार
X

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा लाये गये तीन नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का गतिरोध अब भी बरकरार है. राजधानी दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डरों पर किसान अपनी मांगों के लेकर डटे हुए हैं. पिछले 4 हफ्तों से दिल्ली की कड़ाके की ठंड में आंदोलन कर रहे किसानों का प्रदर्शन आज 27वें दिन में प्रवेश कर चुका है. केंद्र सरकार की तरफ से भेजे गए प्रस्ताव पर किसान संगठन आज फैसला लेंगे.

फिलहाल केन्द्र सरकार और किसानों के बीच फिलहाल कोई हल नहीं निकल पाया है. दिल्ली-हरियाणा सीमा स्थित सिंघु बॉर्डर पर कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शनकारी ने बताया, ''जो चिट्ठी सरकार ने भेजी है, आज उसका जवाब दिया जायेगा. हम 24 घंटे बात करने के लिए तैयार हैं, पर वे बात नहीं करना चाहते, क्योंकि उनके मन में खोट है। दूसरी ओर किसानों से बातचीत करने के लिए TMC के 5 सांसद. सिंघू बॉर्डर पहुंचे हैं।

Updated : 2020-12-23T15:16:29+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top