Home > News Window > कोरोना काल में गंदा काम,Porn रैकेट का इंटरनेशनल कनेक्शन,कई मॉडल्स प्रॉपर्टी सेल की रडार पर

कोरोना काल में गंदा काम,Porn रैकेट का इंटरनेशनल कनेक्शन,कई मॉडल्स प्रॉपर्टी सेल की रडार पर

कोरोना काल में गंदा काम,Porn रैकेट का इंटरनेशनल कनेक्शन,कई मॉडल्स प्रॉपर्टी सेल की रडार पर
X

फाइल photo

मुंबई। मुंबई crime ब्रांच की प्रॉपर्टी सेल ने अभिनेत्री गहना वशिष्ठ के एक ऐसे साथी को गिरफ्तार किया है जो मुंबई में शूट हुई पोर्नोग्राफी वीडियो को विदेशों मे कब और कैसे अपलोड करना है, इसके को-ऑर्डिनेशन का काम करता था.इसका नाम उमेश कामत है। प्रॉपर्टी सेल ने जब उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि वह इस पूरे मामले में मिडिलमैन का काम करता था. एक बार पोर्न मूवी शूट होने के बाद अभिनेत्री गहना वशिष्ठ उसे वी ट्रांसफर पर अपलोड करवाती थी और उस लिंक को विदेश में बैठे अपलोडर और उमेश को भेज देती थी, जिसके बाद से उमेश उस वीडियो को कब और कैसे अपलोड करना है इस चीज को लेकर कोआर्डिनेशन का काम करता था.

प्रॉपर्टी सेल के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक केदारी पवार ने बताया कि उमेश कामत ने यह कबूला है कि अभिनेत्री गहना वशिष्ठ उसे जो भी पोर्न वीडियो भेजती थी, वह उसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपलोड करवाने का काम करता था. प्रॉपर्टी सेल के मुताबिक इस रैकेट से जुड़े लोग दुनिया भर में पोर्नोग्राफी की फ़ाइल वी ट्रांस्फर के जरिये इसलिए भेजते थे,क्योंकि फ़ाइलों को भेजने का यह सबसे सरल तरीका है, जिसके माध्यम से 2GB तक की बड़ी फ़ाइलों को मुफ्त में भेजा जा सकता है।

इस वेबसाइट पर आपका डेटा 7 दिन के बाद अपने आप ही डिलीट हो जाता है.कोरोना के पीक दौर में जब बॉलिवुड और टीवी धारावाहिकों की शूटिंग बंद थी, पॉर्न फिल्मों की शूटिंग चालू थी और कोरोना बंदोबस्त में तैनात होने की वजह से पुलिस का ध्यान उस पर नहीं गया. प्रॉपर्टी सेल के मुताबिक ऐप्स के जरिये अब तक 90 से ज्यादा पोर्न वीडियो अपलोड किए जा चुके हैं. इन ऐप्स को ओपन करने से पहले कस्टमर को बाकायदा सब्सक्रिप्शन फीस देनी पड़ती थी.गहना वशिष्ठ के बारे में पता चला है कि उसकी आम लोगों के लिए सब्सक्रिप्शन फीस 2000 रुपये महीने थी. कई मॉडल्स प्रॉपर्टी सेल की रडार पर हैं।

Updated : 2021-02-08T18:06:43+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top