Top
Home > News Window > राकेश टिकैत के आंसुओं पर पिघली कांग्रेस-आप, राहुल गांधी,अरविंद केजरीवाल खुलकर आए आमने

राकेश टिकैत के आंसुओं पर पिघली कांग्रेस-आप, राहुल गांधी,अरविंद केजरीवाल खुलकर आए आमने

राकेश टिकैत के आंसुओं पर पिघली कांग्रेस-आप, राहुल गांधी,अरविंद केजरीवाल खुलकर आए आमने
X

नई दिल्ली। ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के बाद किसान आंदोलन के खत्म होने से कयास लगने लगे थे। यूपी सरकार भी गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलनरत किसानों को हटाए जाने का आदेश भी दे दिया था। पर राकेश टिकैत की भावुक अपील के बाद पूरा सीन ही बदल गया। किसानों ने अपने ट्रैक्टर फिर से बॉर्डर की तरफ मोड़ दिए हैं। अभी तक कोई भी पक्ष लेने से बच रही कांग्रेस और आम आदमी पार्टी भी खुलकर सामने आ गई है।

राकेश टिकैत की भावुक अपील के बाद पश्चिमी यूपी, हरियाणा, उत्तराखंड के किसानों ने आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है। महापंचायत में कई पड़ोसी राज्यों के किसान जुट रहे हैं। ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के मसले पर अब तक चुप्पी साधे बैठे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने किसानों के आंदोलन के साथ रहने का ऐलान किया है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, 'एक साइड चुनने का समय है। मेरा फ़ैसला साफ है। मैं लोकतंत्र के साथ हूं। मैं किसानों और उनके शांतिपूर्ण आंदोलन के साथ हूं।' शुक्रवार की सुबह एक और ट्वीट करते हुए राहुल ने कहा, 'पीएम हमारे किसान-मजदूर पर वार करके भारत को कमजोर कर रहे हैं।

फायदा सिर्फ देश-विरोधी ताकतों का होगा।' इसी तरह प्रियंका गांधी ने भी किसानों के समर्थन में ट्वीट किया। वहीं आम आदमी पार्टी भी सक्रिय भूमिका में आ गई है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने गाजीपुर बॉर्डर पर बिजली और पानी की सप्लाई काटे जाने की घटना के बीच राकेश टिकैत से बातचीत की और सुविधा मुहैया कराने का आश्वासन दिया। आप के मनीष सिसौदिया भी बॉर्डर पर पहुंच गए हैं।

Updated : 2021-01-29T12:59:42+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top