Home > News Window > मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिव संग्राम नेता विनायक मेटे की मौत की सीआईडी ​​जांच के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिव संग्राम नेता विनायक मेटे की मौत की सीआईडी ​​जांच के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिव संग्राम नेता विनायक मेटे की मौत की सीआईडी ​​जांच के दिए निर्देश
X

मुंबई: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने पुलिस महानिदेशक को शिव संग्राम संगठन के अध्यक्ष और पूर्व विधायक विनायक मेटे की मौत की सीआईडी जांच कराने का निर्देश दिया है। मराठा समुदाय के नेता कहे जाने वाले विनायक मेटे की कार का 14 अगस्त को सुबह पांच बजे मुंबई पुणे एक्सप्रेस हाईवे पर भयानक हादसा हो गया. दुर्भाग्य से इस हादसे में उनकी मौत हो गई। इसके बाद मुख्यमंत्री शिंदे तुरंत नवी मुंबई के एमजीएम अस्पताल गए और उनसे मुलाकात की.उस समय मीडिया से बात करते हुए उन्होंने घोषणा की कि मौत की गहन जांच की जाएगी।



इसी के तहत आज उन्होंने राज्य के पुलिस महानिदेशक रजनीश सेठ को मौत की सीआईडी जांच कराने और अपनी जांच रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है।फोरेंसिक लैब की टीम ने रसायनी में विनायक मेटे की कार को टक्कर वाले संदिग्ध रूप से बरामद किए खड़े आईसर ट्रक की गहन जांच की। इसके लिए एक फोरेंसिक टीम को बुलाया गया गया था। विनायक मेटे के दुर्घटनाग्रस्त कार के सभी किनारों की जांच की गई साथ ही बरामद आइसर ट्रक पर घंटों फॉरेंसिक टीम ने टक्कर मारने के सबूतों को जुटाने का प्रयास किया है। कार और आईसर दोनों पर केमिकल के जरिए कुछ हिस्सों की जांच की गई।

मंगलवार को विनायक मेटे की पत्नी ज्योति मेटे ने भी इसे लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी है। विनायक मेटे की दुर्घटना के संबंध में स्थानीय पत्रकार और विनायक मेटे के ड्राइवर अन्नासाहेब मायकर की कॉल रिकॉर्डिंग वायरल हो गई है। यह कॉल रिकॉर्डिंग विनायक मेटे की जान के लिए खतरा थी और इस बात की चर्चा है कि क्या हादसे के पीछे कोई हत्या की साजिश है क्या? इसी पृष्ठभूमि में विनायक मेटे की पत्नी ज्योति मेटे से पत्रकारों ने पूछा, ''मैंने अभी यह क्लिप सुनी है. मैंने अन्नासाहेब मयेकर से भी बात की है। इसलिए इस तरह की पूरी जांच होनी चाहिए, अन्नासाहेब मयेकर ने यह भी कहा कि 3 अगस्त को भी इसी तरह की घटना हुई थी।

Updated : 17 Aug 2022 12:58 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top