Latest News
Home > News Window > अमित शाह का सीधा वार,सत्ता के लालच में शिवसेना ने बालासाहेब के सिद्धांतों को तापी नदी में फेंका

अमित शाह का सीधा वार,सत्ता के लालच में शिवसेना ने बालासाहेब के सिद्धांतों को तापी नदी में फेंका

अमित शाह का सीधा वार,सत्ता के लालच में शिवसेना ने बालासाहेब के सिद्धांतों को तापी नदी में फेंका
X

मुंबई। गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कोंकण दौरे के उपरांत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चेतावनी दी। उन्होंने कहा, 'हम आपके रास्ते पर नहीं चलेंगे। महाराष्ट्र में जब भाजपा की सरकार थी, तब हमने ऐसा किया होता तो आज शिवसेना का अस्तित्व नहीं होता।' अमित शाह ने उद्धव सरकार को तीन पहिए वाली ऑटो रिक्शा बताते हुए कहा कि इसके तीनों पहिए अलग-अलग दिशा में चलते हैं। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के बाद शिवसेना ने जनता के जनादेश का अनादर किया है।

बिहार में भाजपा की नीतीश कुमार की पार्टी से ज्यादा सीट आने के बावजूद हमने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया। अमित शाह ने कहा, 'वे कहते हैं कि हमने बंद कमरे में वादा किया था। और यह वादा मैंने किया था। मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मैं कभी भी बंद कमरे में वादा नहीं करता, जो करता हूं डंके की चोट पर सार्वजनिक रूप से करता हूं। मैं कभी भी कमरे की पॉलिटिक्स नहीं की। शाह ने कहा, 'मैं एक बार फिर से कहता हूं कि मैंने उनसे कोई वादा नहीं किया था।

मैं उद्धव ठाकरे से सवाल पूछता हूं कि जब चुनाव प्रचार में हम देवेंद्र फडवीस के नेतृत्व में सरकार बनाने की बात कही तो आपने क्यों कुछ नहीं कहा? भाजपा ने शिवसेना अध्यक्ष से कोई वादा नहीं किया था। शिवसेना ने सत्ता के मोह में बालासाहेब ठाकरे के सभी सिद्धांतों को तापी नदी में डाल दिया और उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बन गए। अमित शाह ने हमला बोलते हुए कहा कि शिवसेना ने सत्ता के लालच में बाळासाहेब ठाकरे के सभी सिद्धांतों को तापी नदी में फेंक दिया। तीन पहिए की सरकार अलग-अलग रास्तों पर चलते हैं।

Updated : 7 Feb 2021 12:19 PM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top