Top
Home > News Window > कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर की फिर वहीं बात, किसानों को मिल रही है तारीख पर तारीख

कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर की फिर वहीं बात, किसानों को मिल रही है तारीख पर तारीख

कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर की फिर वहीं बात, किसानों को मिल रही है तारीख पर तारीख
X

नई दिल्ली। कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर ने मंगलवार को किसान आंदोलन को लेकर कहा कि दो दिन पहले कृषि मंत्रालय की तरफ किसान संगठन को पत्र भेजा गया था, सरकार खुले मन से किसान संगठन से बात करना चाहती है. अगर किसान बात करना चाहते हैं तो एक तारीख तय करके बताएं हम बातचीत के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि यह बात किसान संगठन को बताया गया था. सरकार की नीयत साफ है, हम पूरी दृढ़ता के साथ नए कानूनों का फायदा सबके सामने रख रहे हैं.

उन्होंने कहा कि उम्मीद है किसान भाई हमारी मंशा को समझेंगे. पत्रकारों से बात करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि तीनों नए कृषि सुधार से जुड़े कानूनों का MSP के साथ कोई संबंध नहीं है, MSP एक प्रशासनिक फैसला होता है. मैंने संसद में कहा था कि हम MSP व्यवस्था जारी रहेगी. प्रधानमंत्री ने भी कई बार कहा है कि MSP जारी रहेगी. MSP के बारे में कोई शंका नहीं होनी चाहिए. बकौल नरेंद्र तोमर सरकार ने MSP डेढ़ गुना बढ़ाई है और साथ ही अनाज की खरीद को भी बढ़ाया है.

अगर किसान संगठनों के इस बारे में कोई सुझाव है तो सरकार उनके साथ बातचीत के लिए तैयार है. किसान नेताओं ने कृषि मंत्रालय द्वारा भेजे गए पत्र को लेकर सोमवार को कहा था कि अगर सरकार ''ठोस समाधान'' पेश करती है तो वे हमेशा बातचीत के लिए तैयार हैं लेकिन दावा किया कि वार्ता के लिए अगले तारीख के संबंध में केंद्र के पत्र में कुछ भी नया नहीं है. भारतीय किसान यूनियन नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार ने अपने पत्र में उल्लेख किया है कि वह नए कृषि कानूनों में संशोधन के पूर्व के प्रस्ताव पर बात करना चाहती है. टिकैत ने कहा, ''इस मुद्दे पर (सरकार के प्रस्ताव), हमने उनके साथ पहले बातचीत नहीं की थी।

Updated : 22 Dec 2020 10:23 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top