Home > लाइफ - स्टाइल > 83 फीसद कर्मचारी कोरोना वैक्सीन आने से पहले नहीं जाना चाहते आफिस

83 फीसद कर्मचारी कोरोना वैक्सीन आने से पहले नहीं जाना चाहते आफिस

83 फीसद कर्मचारी कोरोना वैक्सीन आने से पहले नहीं जाना चाहते आफिस
X

फाइल photo

नई दिल्ली। देश में 83 फीसद कर्मचारी वापस दफ्तर लौटने पर डरे हैं। आइटी कंपनी अटलस्सियन की तरफ से कराए गए सर्वे के मुताबिक कोरोना के खिलाफ वैक्सीन आने से पहले ये कर्मचारी दफ्तर नहीं जाना चाहते। 88 फीसद भारतीय कर्मचारियों को मानना है कि उनकी कंपनी वापस दफ्तर से काम करने के लिए पूरी तरह तैयार हो गई हैं, पर 78 फीसद कर्मचारियों को इस बात से नाराजगी थी कि इस महामारी के चलते उन्हें घर से काम करने की अनुमति मिली।

यह सर्वे अक्टूबर के महीने में कराया गया था। 86 फीसद कर्मचारियों का मानना था कि कोरोना संकट के बाद उनकी टीम के सदस्यों के बीच नजदीकियां बढ़ी है। 75 फीसद ने माना कि पहले की तुलना में उनके बीच टीम वर्क बेहतर हुआ है। अटलस्सियन के इंजीनियरिंग (बेंगलुरु) इकाई के प्रमुख दिनेश अजमेरा का कहना है कि यह पता लगाने के लिए यह सर्वे कराया गया था कि कोरोना काल में सबकुछ कैसा चल रहा है।

जूम के जरिये लोगों से संर्पक किया गया। टायर एक, दो और तीन स्तर के शहरों के करीब डेढ़ हजार लोगों को इसमें शामिल किया गया था। सर्वे में यह देखने को मिला कि लोग अब अपनी टीम के साथ निजी अनुभवों को ज्यादा साझा करते हैं। 89 फीसद कर्मचारियों ने माना कि पहले की अपेक्षा अब वो अपनी टीम के साथ ज्यादा जुड़ा महसूस करते हैं। 50 फीसद मैनेजरों ने माना कि उनकी नौकरी अब ज्यादा सुरक्षित है।

Updated : 2020-11-28T17:45:36+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top