Top
Home > News Window > '100 करोड़' दिग्विजय के भाई का ट्वीट,देशमुख 'देश' के 'मुख' नहीं,समर्थन वापस ले कांग्रेस'

'100 करोड़' दिग्विजय के भाई का ट्वीट,देशमुख 'देश' के 'मुख' नहीं,समर्थन वापस ले कांग्रेस'

100 करोड़ दिग्विजय के भाई का ट्वीट,देशमुख देश के मुख नहीं,समर्थन वापस ले कांग्रेस
X

फाइल photo

मुंबई/भोपाल। पूर्व पुलिस कमिश्नर रहे परमबीर सिंह की मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लिखी चिट्ठी ने महाराष्ट्र की सियासत में भूचाल ला दिया है. एंटीलिया केस में फंसे मुंबई पुलिस के अफसर सचिन वाजे के चक्कर में परमबीर सिंह की भी कमिश्नर पद से छुट्टी हो गई थी. उसके दो दिन बाद परमबीर सिंह ने सीएम को चिट्ठी लिखकर गृहमंत्री अनिल देशमुख पर आरोप लगाया कि उन्होंने सचिन वाजे को हर महीने 100 करोड़ रुपए वसूली का टारगेट दिया था. इस चिट्ठी के सामने आने के बाद महाराष्ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार घिरती दिख रही है.

एमपी के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के भाई एवं गुना जिले के चांचौड़ा से कांग्रेस विधायक लक्ष्मण सिंह ने महाराष्ट्र में चल रहे सियासी मसले पर महाविकास अघाड़ी सरकार से कांग्रेस को समर्थन वापस लेने की सलाह दी है। विधायक लक्ष्मण सिंह ने अपने ट्वीट के जरिए कहा 'अगर 100 करोड़ प्रति माह मुंबई पुलिस के माध्यम से महाराष्ट्र के गृह मंत्री वसूल रहे हैं, और अगर यह सत्य है, तो देशमुख "देश के मुख" नहीं हो सकते। लगता है "आघाड़ी सरकार पिछड़ती" जा रही है, कांग्रेस को समर्थन वापस लेना चाहिए।

परमबीर सिंह ने सीएम उद्धव ठाकरे को लिखे पत्र में कहा है कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख की तरफ से सचिन वाजे को कहा गया था कि वे 100 करोड़ रुपये हर महीने की वसूली करें। ये आरोप मुंबई पुलिस कमिश्नर पद से हटाए जाने के बाद परमबीर सिंह ने लगाए हैं। इस आरोप के बाद एक तरफ विपक्ष ठाकरे सरकार को घेरने में लगी हुई है। मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम ने अपनी पार्टी को इस मुद्दे पर स्टैंड लेने की सलाह दी है।

Updated : 2021-03-22T16:41:13+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top