Home > लाइफ - स्टाइल > दारू-सिगरेट व ड्रग का सेवन करना, मतलब इस बीमारी को न्यौता

दारू-सिगरेट व ड्रग का सेवन करना, मतलब इस बीमारी को न्यौता

दारू-सिगरेट व ड्रग का सेवन करना, मतलब इस बीमारी को न्यौता
X

फाइल photo

युवा पीढ़ी किसी भी देश और समाज की ताकत होती है पर यही युवा जब नशे की गिरफ्त में आ जाते हैं तब खुद के साथ-साथ देश व समाज को भी कमजोर कर देते हैं। अंतरराष्ट्रीय पत्रिका हार्ट में प्रकाशित एक हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि शराब, सिगरेट व ड्रग का सेवन करने वाले युवाओं को समय से पूर्व दिल की बीमारी का खतरा ज्यादा होता है। युवा महिलाओं पर नशे का असर कहीं अधिक होता है।

जो युवा मादक पदार्थों का सेवन करते हैं उन्हें दिल की बीमारी का खतरा नौ गुना ज्यादा हो जाता है। शोधकर्ताओं ने कहा कि यदि युवाओं को सुनहरा भविष्य चाहिए तो नशे को ना कहना ही होगा। इस अध्ययन में 2,54,668 लोगों को शामिल किया गया। इनमें 1,35,703 लोग ऐसे थे जिन्हें समय से पूर्व यानी कम उम्र में ही दिल की बीमारी हो गई थी। 7,716 लोग ऐसे रहे जिन्हें बहुत कम उम्र में दिल की बीमारी हो गई थी, जबकि 1,11,245 लोग को समय पूर्व दिल की बीमारी नहीं थी।

तुलनात्मक अध्ययन के दौरान टीम ने पाया कि शौकिया तौर पर भी तंबाकू, शराब व ड्रग आदि के सेवन के कारण धमनियां समय से पहले ही कमजोर हो सकती हैं और इसी वजह से दिल की बीमारी हो जाती है। जैसे- उच्च रक्तचाप, मधुमेह व कोलेस्ट्रोल आदि का निर्धारण करने के बाद शोधकर्ताओं ने पाया कि जो लोग तंबाकू का सेवन करते हैं, उन्हें समय से पहले दिल की बीमारी का खतरा दोगुना होता है। शौकिया तौर पर शराब पीने वालों को भी इस बीमारी का खतरा 50 फीसद ज्यादा होता है।

Updated : 2021-02-19T10:15:36+05:30
Tags:    
Next Story
Share it
Top