Top
Home > Entertainment > कंगना पर भड़कीं रेणुका, उर्मिला बोलीं- सिर्फ अहसानफरामोश ही ऐसा कर सकते हैं, क्या कहा रितेश देशमुख ने...

कंगना पर भड़कीं रेणुका, उर्मिला बोलीं- सिर्फ अहसानफरामोश ही ऐसा कर सकते हैं, क्या कहा रितेश देशमुख ने...

कंगना पर भड़कीं रेणुका, उर्मिला बोलीं- सिर्फ अहसानफरामोश ही ऐसा कर सकते हैं, क्या कहा रितेश देशमुख ने...
X

मुंबई। एक्ट्रेस कंगना रनोट ने गुरुवार को एक ट्वीट करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत पर निशाना साधा था। उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थी। रेणुका शहाणे ने कंगना से पूछा कि आपने इतनी घटिया तुलना कैसे कर दी? उर्मिला मातोंडकर ने तो उन्हें अहसानफरामोश कह दिया।

रेणुका ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘‘प्रिय टीम कंगना मुंबई वो शहर है जहां बॉलीवुड स्टार बनने का आपका सपना पूरा हुआ है, आपसे इस शानदार शहर के प्रति कुछ सम्मान दिखाने की उम्मीद की जाती है। ये घटिया है कि आपने पीओके के साथ मुंबई की तुलना कैसे कर दी।’’ उन्होंने गुस्से में लाल इमोजी के साथ मराठी में लिखा, 'उछलती हुई जीभ और वाहवाही…'
रेणुका के ट्वीट के बाद कंगना ने उन्हें जवाब देते हुए लिखा, ‘‘प्रिय रेणुका जी जब किसी सरकार के खराब प्रशासन की आलोचना की जाती है, तो वह प्रशासित होने वाली जगह भी उसी के बराबर होती है। मुझे भरोसा नहीं हो रहा कि आप इतनी भोली हैं, क्या आप भी खून के प्यासे गिद्धों की तरह इंतजार कर रही थीं कि मेरे मांस का एक टुकड़ा मिल जाए?
रेणुका ने उन्हें जवाब देते हुए लिखा, ‘‘प्रिय टीम कंगना मैं भी सरकार की आलोचना के लिए तैयार हूं, मगर 'मुंबई में पीओके की तरह महसूस हो रहा है' ये मुझे मुंबई और पीओके के बीच सीधी तुलना की तरह लगा। आपकी ये तुलना वास्तव में एक खराब अंदाज में थी। एक मुंबईकर होने के नाते मुझे ये पसंद नहीं आया। शायद ये मेरा भोलापन ही हो कि मैंने आपसे कुछ बेहतर की उम्मीद की थी।’’ इसके बाद कंगना ने लिखा, ‘‘पीओके भी हिंदुस्तान है, केवल सरकार ही अलग है।
उर्मिला ने लिखा, ‘‘महाराष्ट्र भारत का सांस्कृतिक और बौद्धिक चेहरा है… ये महान शिवाजी महाराज की भूमि है। मुंबई ने लाखों भारतीयों का पेट भरा है और उन्हें नाम, पैसा और शोहरत दी है। सिर्फ अहसानफरामोश ही इसकी तुलना पीओके से कर सकते हैं। हैरान और गुस्से में हूं। #अब बस बहुत हुआ #आमची मुंबई #मुंबई मेरी जान #जय महाराष्ट्र।’’
दीया मिर्जा ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘‘मुंबई मेरी जान। लगभग 20 सालों से यहां रह रही हूं और काम कर रही हूं। 19 साल की उम्र में अपने पैरों पर खड़ी होने के लिए यहां आई थी। इस शहर ने मुझे खुले हाथों से गले लगाया और मुझे सुरक्षित रखा।
रितेश देशमुख ने कहा मुंबई हिंदुस्तान है।

Updated : 4 Sep 2020 9:01 AM GMT
Tags:    
Next Story
Share it
Top